Wednesday, July 8, 2020

महानतम हॉकी खिलाड़ी बलबीर सिंह का निधन

हॉकी के महानतम खिलाड़ियों में शामिल बलबीर सिंह सीनियर का आज सुबह मोहाली में 96 साल की उम्र में निधन हो गया। वे पिछले दो हफ्ते से अस्पताल में भर्ती थे। उन्हें 8 मई को निमोनिया और तेज बुखार की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। दिमाग में खून का थक्का जमने की वजह से वे 18 मई से कोमा में थे।

नई दिल्‍ली: हॉकी के महानतम खिलाड़ियों में शामिल बलबीर सिंह सीनियर का आज सुबह मोहाली में 96 साल की उम्र में निधन हो गया। वे पिछले दो हफ्ते से अस्पताल में भर्ती थे। उन्हें 8 मई को निमोनिया और तेज बुखार की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था। दिमाग में खून का थक्का जमने की वजह से वे 18 मई से कोमा में थे।

हॉकी इंडिया ने पूर्व ओलिंपियन बलबीर सिंह के निधन पर दुख जताया है। बलबीर ने 1952 के हेलसिंकी ओलिंपिक के फाइनल में नीदरलैंड्स के खिलाफ 5 गोल दागे थे। किसी ओलिंपिक फाइनल में सबसे ज्यादा गोल करने का ये रिकॉर्ड आज भी कायम है। भारत ने ये मुकाबला 6-1 से जीता था। वे 1948 के लंदन, 1952 के हेलसिंकी और 1956 के मेलबर्न ओलिंपिक में गोल्ड जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे। 1956 के मेलबर्न ओलिंपिक में उन्होंने भारतीय दल की कप्तानी की थी। उनकी अगुवाई में भारतीय टीम ने फाइनल में पाकिस्तान को 1-0 से हराकर लगातार तीसरी बार हॉकी में गोल्ड जीता था।

बलबीर सिंह 1975 में इकलौता हॉकी वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम के मैनेजर भी थे। उन्हें अंतरराष्ट्रीय ओलिंपिक कमेटी ने आधुनिक ओलंपिक इतिहास के 16 महानतम खिलाड़ियों में शामिल किया था। इस लिस्ट में शामिल होने वाले वे देश के इकलौते खिलाड़ी थे। बलबीर सिंह को 1957 में पद्मश्री दिया गया था, वो ये सम्मान हासिल करने वाले पहले खिलाड़ी थे।

बलबीर सिंह सीनियर का निधन

  • मोहाली में 96 साल की उम्र में हुआ निधन
  • पिछले 2 सप्ताह से अस्पताल में भर्ती थे
  • हॉकी के महानतम खिलाड़ियों में शुमार थे बलबीर सिंह
  • लगातार 3 ओलंपिक गोल्ड जीतने वाली टीम का हिस्सा रहे
  • 1948 के लंदन, 1952 के हेलसिंकी ओलंपिक में जीता गोल्ड
  • मेलबर्न ओलिंपिक में भी गोल्ड जीतने वाली टीम का हिस्सा
  • 1952 के हेलसिंकी ओलिंपिक के फाइनल में 5 गोल दागे थे
  • ओलंपिक फाइनल में सबसे ज्यादा गोल दागने का रिकॉर्ड बनाया
  • 1956 के मेलबर्न ओलंपिक में गोल्ड जीतने वाली टीम के कप्तान रहे
  • 1975 में हॉकी वर्ल्ड कप जीतने वाली भारतीय टीम के मैनेजर थे
  • आधुनिक ओलंपिक इतिहास के 16 महानतम खिलाड़ियों में शामिल
  • 1957 में पद्मश्री सम्मान हासिल करने वाले पहले खिलाड़ी बने

हॉकी लीजेंड बलबीर सिंह सीनियर के निधन पर पीएम मोदी ने शोक जताया है। पीएम मोदी ने ट्वीट किया, ”पद्मश्री बलबीर सिंह सीनियर जी को हमेशा उनके शानदार प्रदर्शन के लिए जाना जाएगा। उन्होंने भारत का गौरव बढ़ाया। बेशक वह शानदार खिलाड़ी थे और साथ ही एक बड़े मार्गदर्शक भी थे। उनके जाने से दर्द हो रहा है। उनके परिवार को भगवान हिम्मत दे।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Video: सनी लियोन ने पूल में लगाई छलांग, वीडियो ने सोशल मीडिया पर मचाया जबरदस्त धमाल

मुंबई। बॉलीवुड(Bollywood) की हॉट एंड ग्लैमरेस एक्ट्रेस(Actress) सनी लियोन(Sunny Leone) अपनी बोल्ड तस्वीरों और वीडियोज से सोशल मीडिया का टैम्परेचर बढ़ाने का कोई मौका...

जिहाद के नाम पर PoK में महिलाओं को बनाया जा रहा है सेक्‍स-स्‍लेव

नई दिल्‍ली: पाकिस्तान ने सात दशक लंबे कब्‍जे के बाद PoK को कश्मीर के मुद्दे से रणनीतिक लाभ उठाने की नीति के बाद इस्लामी...

RBSE 12th Science result 2020 Live updates: rajresults.nic.in पर जारी हुआ रिजल्ट, ऐसे करें चेक

RBSE 12th Science result 2020: राजस्थान बोर्ड के 12वीं के विद्यार्थियों के लिए एक खुशखबर सामने आई है। दरअसल राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने...

बाजार में सैमसंग जल्द लाएगा ये 5 स्मार्टफोन, जरूर जानें इनकी डिटेल

नई दिल्लीः टेक कंपनी सेल बढ़ाने और आर्थिक स्थिति के पहिये को पटरी पर लाने के लिए काम करने में जुटी हैं। दुनिया की...