TrendingUnion Budget 2024Aaj Ka RashifalAaj Ka MausamBigg Boss OTT 3

---विज्ञापन---

Chanakya Niti: मित्र के नाम पर कलंक हैं ये दोस्त! दूरी बनाकर रखने में ही है समझदारी

Chanakya Niti For Friends: आचार्य चाणक्य में वो सभी गुण थे, जो उन्हें महान राजनेता, योग्य अर्थशास्त्री और कुशल कूटनीतिज्ञ बनाते थे। उनकी नीतियों को अपनाकर प्रत्येक व्यक्ति का जीवन सुखमय हो सकता है। चाणक्य ने दोस्तों के उन तीन अवगुणों के बारे में भी बताया है, जिनसे उनकी सफलता पर तो ब्रेक लगता ही है। साथ ही आप भी परेशानी में पड़ सकते हैं।

Edited By : Nidhi Jain | Updated: Jun 17, 2024 12:47
Share :

Chanakya Niti For Friends: जीवन में एक सच्चा दोस्त होना बहुत जरूरी है। जिंदगी में कई बार ऐसी परिस्थितियां आ जाती हैं, जिनके बारे में व्यक्ति अपने परिवारवालों या पार्टनर से कह नहीं पता है। ऐसे में एक दोस्त ही होता है, जिनसे आप अपनी बात आसानी से कह सकते हैं। जीवन में एक सच्चे दोस्त के साथ के कारण मुश्किल से मुश्किल समय भी आसानी से पार हो जाता है। सच्चे दोस्त हर एक परिस्थिति में अपने मित्र का सही मार्गदर्शन करते हैं। लेकिन कुछ दोस्त ऐसे भी होते हैं, जो आपको आगे बढ़ाने की जगह पीछे धकेलना का काम करते हैं।

आज हम आपको ‘आचार्य चाणक्य नीति शास्त्र’ में लिखित दोस्त के उन तीन अवगुणों के बारे में बताने जा रहे हैं,  जिनसे आपको और उन्हें दोनों को परेशानी हो सकती है।

मीठी-मीठी बातें बनाने वाले

आचार्य चाणक्य ने अपने ‘नीति शास्त्र’ में बताया है कि अगर आपका दोस्त आपके मुंह पर तो मीठी-मीठी बातें करता है, लेकिन पीठ पीछे आपकी बुराई करता है। लोगों के साथ बैठकर आपका मजाक उड़ाता है, तो ऐसे मित्र से दूरी बनाकर रखने में ही समझदारी होती है।

ये भी पढ़ें- हर एक स्त्री के अंदर होती हैं ये 4 बुराइयां, Chanakya Niti में उल्लेख

बुरे वक्त में साथ छोड़ देने वाले

एक सच्चा दोस्त वही होता है, जो बुरे से बुरे वक्त में भी आपके साथ खड़ा रहे। आचार्य चाणक्य के अनुसार, मुश्किल समय में अगर आपका दोस्त आपके साथ नहीं रहता है या जिस वक्त आपको उनकी सबसे ज्यादा जरूरत है, उस समय वह आपके साथ नहीं हैं तो ऐसे मित्रों से दूर रहने में ही भलाई होती है।

दुश्मनों से दोस्ती रखने वाले

आचार्य चाणक्य ने बताया है कि सच्चा मित्र वही होता है, जो आपको गलत रास्ते पर जाने से रोके। लेकिन जो लोग आपकी पीठ पीछे आपके दुश्मनों से दोस्ती करते हैं। उनके साथ समय व्यतीत करते हैं। ऐसे दोस्त उस घड़े के समान होते हैं, जिनके अंदर तो विष भरा होता है लेकिन ऊपर दूध होता है। इस अवगुण वाले लोगों से अगर आप दोस्ती करते हैं, तो कभी न कभी आप भी परेशानी में पड़ सकते हैं।

चाणक्य नीति शास्त्र में किन चीजों का वर्णन है?

आज भी ज्यादातर लोग अपनी परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए ‘चाणक्य नीति शास्त्र’ पढ़ते हैं। आचार्य चाणक्य ने ‘नीति शास्त्र’ की रचना लोगों की मदद करने के लिए की थी। इस किताब में उन्होंने प्रेम, परिवार, दोस्त, सेहत, करियर और नौकरी आदि जीवन से संबंधित छोटी से बड़ी लगभग हर एक समस्या के समाधान के बारे में बताया है।

ये भी पढ़ें- Chanakya Niti: जिन पुरुषों में होते हैं ये 3 गुण, उनकी सफलता तय, करियर भी चमकदार

डिस्क्लेमर: यहां दी गई जानकारी धार्मिक शास्त्र पर आधारित है तथा केवल सूचना के लिए दी जा रही है। News24 इसकी पुष्टि नहीं करता है। 

First published on: Jun 17, 2024 12:47 PM

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 on Facebook, Twitter.

संबंधित खबरें
Exit mobile version