'खतरनाक' जाकिर नाइक को अपने पिता का आखिरी जनाजा भी नहीं होगा नसीब

मुंबई (30 अक्टूबर): विवादित इस्लामिक उपदेशक जाकिर नाइक के पिता का बीती रात दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। उन्हें आज साढ़े ग्यारह बजे के करीब मुंबई के मजगांव कब्रिस्तान में आखिरी रसुमात अदा की जाएगी। लेकिन गिरफ्तारी से डर के बचने से जाकिर नाईक अपने पिता के नमाज-ए-जनाजा में भी शामिल नहीं होगा। आपको बता दे कि भारत सरकार ने विवादित इस्लामिक प्रचारक जाकिर नाईक पर अब पूरी तरह से शिकंजा कसने की तैयारी कर रही है। इसके चलते न केवल उसकी गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है, बल्कि गृह मंत्रालय नाईक के इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन को भी गैर कानूनी संगठन घोषित करने का मन बना रही है। गौरतलब है कि जाकिर नाईक पर भारत के खिलाफ गतिविधियों में संलग्न होने का भी आरोप है। भड़काउ भाषण देने के मामले में नाईक अब भारत सरकार के लिये आंखों की किरकिरी बन गया है। बताया गया है कि गृह मंत्रालय नाईक सभी भाषणों की जांच रही है।