जकिया जाफरी की याचिका पर आज गुजरात HC सुनाएगा फैसला

अहमदाबाद (21 अगस्त): गुजरात दंगा मामले में गुजरात हाईकोर्ट आज जाकिया जाफरी की याचिका पर फैसला सुना सकता है। 2002 में हुए दंगे में कांग्रेस नेता एहसान जाफरी के मारे जाने के बाद 76 साल की उनकी पत्नी जाकिया जाफरी पति को इंसाफ दिलाने के लिए 15 सालों से कानूनी लड़ाई लड़ रही हैं।

गुजरात हाईकोर्ट जाकिया की उस याचिका पर फैसला सुनाएगी जो उन्होंने तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी और अन्य को SIT और निचली अदालत से क्लीनचीट मिलने के खिलाफ दाखिल की थी।

जाकिया जाफरी चाहती हैं कि साल 2002 के दंगे और गुलबर्ग सोसायटी में हुई हिंसा में उनकी पति की जो मौत हुई थी उसमें उस वक्त सीएम रहे नरेंद्र मोदी की जिम्मेदारी सुनिश्चत कर उनके खिलाफ जांच फिर से शुरू की जाए। जाकिया ने केस को लेकर कहा था, मेरी लड़ाई उनके खिलाफ है जिन्होंने दंगों को अंजाम देने के लिए साधन और मौका दिया।