BCCI ने बताया टीम इंडिया में बॉलिंग कोच जहीर का रोल

नई दिल्ली(13 जुलाई): बीसीसीआई ने गुरुवार को यह साफ कर दिया कि गेंदबाजी सलाहकार के तौर पर जहीर खान की नियुक्ति राहुल द्रविड़ की तरह खास दौरों (भारतीय टीम के विदेशी दौरे या विदेशी टीम के भारतीय दौरे) के लिए है।


- बता दें खबरें आईं कि रवि शास्त्री सपॉर्ट स्टाफ की नियुक्ति को लेकर खुश नहीं थे। वह भरत अरुण को टीम का गेंदबाजी कोच बनाना चाहते थे लेकिन सीएसी जहीर खान को गेंदबाजी कोच बनाना चाहती थी।


- इस बारे में बीसीसीआई ने अपना रुख साफ किया है। बीसीसीआई ने कहा कि क्रिकेट अडवाइजरी कमिटी के सदस्य सौरभ गांगुली, सचिन तेंडुलकर और वी.वी.एस. लक्ष्मण ने कोच चुनने में पूरी पारदर्शिता और प्रफेशनलिजम बरती है।


- क्रिकेट अडवाइजरी कमिटी ने 10 जुलाई को भारतीय टीम का कोच बनने के इच्छुक 5 उम्मीदवारों का इंटरव्यू लिया था। इसके बाद गांगुली ने यह कहकर मामले को टाल दिया कि कोच की घोषणा विराट कोहली के दौरे से लौटने के बाद की जाएगी लेकिन अगले ही दिन रवि शास्त्री के नाम पर मुहर लग गई।


-बीसीसीआई ने आगे कहा कि रवि शास्त्री का चयन प्रतिभा के आधार पर हुआ है। उनका प्रजेंटेशन और नजरिया टीम को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाने का काम करेगा। विदेशी दौरों पर जहीर खान और राहुल द्रविड़ का प्रयोग टूर की जरूरतों के आधार पर होगा।