दिल्ली: सुपरबाइक की रफ्तार ने ली युवक की जान

नई दिल्ली(16 अगस्त): राजधानी दिल्ली में रफ्तार ने एक युवक की जान ले ली। 24 साल का युवक अपने दोस्तों के साथ बाइक की रेस लगा रहा था तभी उसकी बाइक का संतुलन बिगड़ गया और हादसा हो गया। हादसे में  गंभीर रूप से घायल युवक की अस्पताल में मौत हो गई। बताया जा रहा है कि तीन दिन पहले ही उसने करीब 5 लाख रुपये की सुपर बाइक खरीदी थी।

- मृतक युवक की पहचान हिमांशु बंसल (24) के रूप में हुई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए हॉस्पिटल भिजवाया। यह पूरा हादसा उनके पीछे चल रहे दूसरे युवक के हेल्मेट में लगे कैमरे में कैद हो गया। 

- हादसा नई दिल्ली डिस्ट्रिक्ट के मंडी हाउस मेट्रो स्टेशन के पास हुआ। बाराखंभा रोड पुलिस ने मामला दर्ज कर तफ्तीश शुरू कर दी। पुलिस ने खतरनाक ड्राइविंग और लापरवाही से मौत का मामला दर्ज कर लिया गया है। 

- पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सोमवार रात पुलिस को कॉल मिली थी कि लेडी इरविन कॉलेज के पास सिकंदरा रोड पर बाइक सवार युवक का ऐक्सिडेंट हुआ है। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई, लेकिन तब तक जख्मी को एलएनजेपी हॉस्पिटल में भर्ती कराया जा चुका था। पुलिस को मौके पर ही क्षतिग्रस्त बाइक भी मिली। पुलिस ने बाइक को थाने पहुंचाया। पुलिस जब हॉस्पिटल पहुंची तो पता चला कि जख्मी युवक की मौत हो चुकी थी। पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भिजवाया। 

- शुरुआती तफ्तीश में पुलिस को पता चला कि मृतक युवक परिवार के साथ विवेक विहार फेस-2 में रहते थे। परिवार में पिता सुरेश बंसल, मां कुसुम बंसल और भाई अकुश बंसल हैं। पिता की झिलमिल औद्योगिक क्षेत्र में फैक्ट्री है। वह अपने पिता के साथ फैक्ट्री में हाथ बंटवाते थे। इसके साथ ही वह पत्राचार से ग्रेजुएशन भी कर रहे थे।

- परिवारवालों ने पुलिस को बताया कि सोमवार शाम हिमांशु घर से अपने दोस्तों के साथ घूमने की बात कहकर अपनी सुपरबाइक लेकर निकले थे। तफ्तीश में पुलिस को पता चला कि हादसे के समय हिमांशु अपने दो अन्य दोस्तों गाजी और लक्ष्य के साथ कनॉट प्लेस की तरफ से मंडी हाउस की तरफ आ रहे थे। हिमांशु सबसे आगे चल रहे थे, जबकि उनके दोनों दोस्त उनसे पीछे थे। लक्ष्य के हेल्मेट पर कैमरा लगा हुआ था। मंडी हाउस मेट्रो स्टेशन के पास एक बुजुर्ग सड़क पार कर रहे थे। 

- बाइक की रफ्तार अधिक होने के कारण हिमांशु की बाइक बुजुर्ग से टकरा गई, जिससे बाइक का बैलेंस बिगड़ गया और वह कॉलेज की दीवार से जा टकराई। इस हादसे में हिमांशु गंभीर रूप से जख्मी हो गए, बुजुर्ग को मामूली चोटें आईं। दोनों दोस्त अन्य लोगों की मदद से हिमांशु को हॉस्पिटल लेकर गए। पुलिस अफसरों ने बताया कि यह पूरा हादसा लक्ष्य के हेल्मेट में लगे कैमरे में कैद हो गया। पुलिस को तफ्तीश मे यह भी पता चला कि हिमांशु ने कुछ समय पहले ही अपने पिता और बड़े भाई से जिद करके यह बाइक खरीदी थी। हिमांशु के पिता दिल्ली में लगातार बढ़ रहे सड़क हादसों के कारण उसे पावर बाइक नहीं दिलाना चाहते थे, लेकिन बेटे की जिद के आगे पिता की एक नहीं चली।