आधार कॉर्ड नहीं है पास तो जरूर पढ़ें यह खबर...

नई दिल्ली (10 मार्च): अगर आपके पास आधार कॉर्ड नहीं है तो यह खबर आपके लिए बेहद जरूरी है। क्‍योंकि मोदी सरकार इस दस्तावेज को इसको कानूनी तौर पर पहचान देने जा रही है, जिससे यह प्रूफ हर जगह मान्य हो जाएगा।

इन स्कीम्स के लिए ही जरूरी है आधार कॉर्ड:

1. प्रधानमंत्री जनधन योजना: गिनीज बुक ऑफ वर्ल्‍ड रिकॉर्ड में शामिल प्रधानमंत्री जनधन योजना को मोदी सरकार ने 28 अगस्त, 2014 को लॉन्च किया था। सरकार का उद्देश्य इस योजना के जरिए देशभर में सभी परिवारों को बैंकिंग सुविधा मुहैया कराना और हर परिवार का बैंक अकाउंट खोलना है। इस योजना का लाभ उठाने के लिए आधार कार्ड ही पर्याप्त है।

2. डीबीटीएल स्कीम: आधार कार्ड पर आधारित डायरेक्ट बेनेफिट स्कीम (एलपीजी सब्सिडी) केंद्र सरकार की एक बड़ी योजना है। इसके जरिए लाभार्थियों को सब्सिडी उनके बैंक अकाउंट में सीधे ट्रांसफर की जाती है। इस स्कीम को मोदी सरकार ने फिर से लॉन्च किया और पहल नाम दिया है।

3. 10 दिन में बनेगा पासपोर्ट: पासपोर्ट बनवाने के लिए भी सबसे अहम डॉक्‍युमेंट के तौर पर आधार कार्ड का इस्तेमाल किया। सरकार ने पासपोर्ट बनवाना पहले की अपेक्षा अब और आसान बना दिया है, पहले आपको पासपोर्ट जारी किया जाएगा। उसके बाद पुलिस वेरीफिकेशन होगा। वहीं, पासपोर्ट के लिए आधार नंबर को अनिवार्य बना दिया गया, जिससे इसको बनवाना बेहद जरूरी है।

4. वोटर कार्ड लिंकिंग: अब 12 डिजिट वाले आधार कार्ड आपको अपने वोटर आइडी कार्ड से लिंकअप करना होगा। इस योजना की शुरुआत 9 मार्च, 2015 से शुरू की गई है। क्‍योंकि एक बार आधार कार्ड से जब वोटर आइडी कार्ड लिंकअप हो जाएगा तो उसके बाद कोई फर्जी वोटर आइडी कार्ड नहीं बनवा पाएगा। साथ ही वोट डालते वक्‍त आधार कार्ड लाना भी अनिवार्य कर दिया गया है।

5. मंथली पेंशन स्कीम: सामाजिक सुरक्षा योजना के तहत चलाई जा रही मंथली पेंशन योजनाओं का फायदा सही लाभार्थियों तक पहुंचाने के लिए कई राज्य सरकारों ने इसे आधार कार्ड नंबर से जोडऩे का काम शुरू कर दिया है। ताकि, कोई फर्जी पेंशन कार्ड बनवाकर उसका लाभ न उठा सके।

6. प्रॉविडेंट फंड: प्रॉविडेंट फंड का पैसा भी उसी अकांउट होल्डर को आसानी से मिलेगा, जो 12 डिजिट वाले अपने आधार नंबर को कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के यहां रजिस्टर्ड करवाया है। ताकि, रिटायरमेंट के बाद किसी भी कमर्चारी को पैसा निकालने में कठिनाई ना हो इसके लिए आधार कार्ड को अनिवार्य बनाया गया है।