'ढांचा गिरा दिया तो राम मंदिर बनाने से कौन रोकेगा'

नई दिल्ली (20 जून): बीजेपी नेता योगी आदित्यनाथ ने एक बार फिर विवादित बयान दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उन्होंने यूपी के बस्ती में कहा कि जब अयोध्या में विवादित ढांचा गिराने से कोई नहीं रोक सका, तो भला मंदिर बनाने से कौन रोकेगा।

वे यहां रामकथा के अयोजन में पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने कहा, 'भगवान राम के मंदिर को बनने से कोई नहीं रोक सकता है। जब ढांचा ढहाने से कोई नहीं रोक पाया तो मंदिर बनाने से कौन रोकेगा। छह दिसंबर को कार सेवकों ने ढांचा ढहाने के बाद ईट का एक-एक टुकड़ा अपने साथ लेकर चले गए और अपने हिसाब से उसका इस्तेमाल किया।'

आदित्यनाथ ने कैराना के मामले पर दुख प्रकट करते हुए कहा, 'हिंदू कब तक पलायन करेगा और वह जाएगा कहां? पाकिस्तान, बांग्लादेश और अफगानिस्तान से हिंदुओं को भगाया गया। तब किसी ने असहिष्णुता की बात नहीं की। तब किसी ने कोई पुरस्कार वापस नहीं किया।'

इधर, कैराना मामले में संघ प्रमुख मोहन भागवत ने भी बड़ा बयान दिया। मोहन भागवत ने कहा कि देश के इलाकों से ऐसे पलयान की खबरें काफी दुखद हैं। देश के कई हिस्सों में से पलायन की खबरें काफी दुखद हैं। ये हमारी जिम्मेदारी है कि हम लोगों के दिलों से ऐसी निराशा निकाल दें। और उन्हें भरोसा दिलाएं कि ये देश उनका है। ये जमीन उनकी है। गौरतलब है कि यूपी के कैराना समेत कई इलाकों से हिंदू परिवारों के कथित पलायन का दावा किया जा रहा है। सबसे ज्यादा राजनीति कैराना पर हो रही है।