तीन तलाक पर जो लोग चुप, वे अपराधी: सीएम योगी


लखनऊ(17 अप्रैल): यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समान नागरिक संहिता का वकालत करते हुए कहा कि जब देश एक है तो कॉमन सिविल कोड क्यों नहीं? उन्होंने सवाल किया कि जब देश एक है तो शादी ब्याह के कानून एक क्यों नहीं होने चाहिए। पूर्व प्रधानमंत्री चन्द्रशेखर की 91वीं जयंती के मौके पर उनपर लिखी किताब का लखनऊ में विमोचन के मौके पर योगी ने तीन तलाक के मुद्दे पर कुछ लोगों के मौन पर सवाल उठाया।


योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश की समस्या पर कुछ लोगों का मुंह बंद है। उन्होंने महाभारत में द्रोपदी के चीरहरण के वक्त वहां मौजूद लोगों के मौन का उदाहरण देते हुए कहा कि तीन तलाक पर जो मौन हैं वे अपराधियों जैसे हैं। योगी ने तीन तलाक को बड़ी समस्या बताते हुए इसे महिलाओं के साथ अन्याय बताया।

समान नागरिक संहिता पर योगी ने कहा कि चंद्रशेखर भी समान नागरिक संहिता के पक्ष में थे। उन्होंने कहा कि सबके लिए एक कानून होना चाहिए। योगी ने कहा कि लोक कल्याण सबका लक्ष्य होना चाहिए।