कागजों तक ही रहा योगी का फरमान, गड्ढा मुक्त नहीं हो सकी हरदोई की सड़कें

नई दिल्ली (14 जून): मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के 15 जून तक सड़कों को गड्ढा मुक्त करने के फरमान की हरदोई में अफसरों ने हवा निकाल दी। अफसरों का दावा है कि 75 प्रतिशत सड़कें दुरुस्त हो गई है, मगर सच्चाई कुछ और है।

यूपी के हरदोई जिले में सड़कों की लंबाई 21 सौ किलोमीटर से ज्यादा है, जिसमें 70 फीसदी से अधिक सड़कें ग्रामीण इलाकों की है। जिला मुख्यालय से ही जुड़ी सड़कों को अभी दुरुस्त नहीं किया जा सका तो अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि ग्रामीण इलाकों की हालत क्या होगी।

टूटी सड़कें अफसरों के दावों की पोल खोल रही है। साथ ही योगी के फरमान को हरदोई में कागजों तक सिमटने की कहानी बयां कर रही है। इसी तरह से काशीराम कालोनी से शुगर मिल की ओर आने वाली सड़क हो या हरपालपुर से कन्नौज को जोड़ने वाली श्रीमऊ बरगद पुरवा सड़क हो या फिर फारुख्वाद जाने वाली लिंक रोड शयमपुर अर्जुनपुर हो सड़कों की टूटी हालत दांवों की सच्चाई बयान कर देती है।