यूपी में कई आईएएस अधिकारियों ने नहीं दिया संपत्ति का ब्योरा

लखनऊ (6 अप्रैल): उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ ने सभी अधिक‍ारियों से संपत्ति का ब्योरा देने को कहा था, लेकिन अब खबर आ रही है कि कुछ आईएएस अधिकारियों ने अभी तक इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी है।


आईएएस अफसरों की सुस्ती को देखते हुए नियुक्ति और कार्मिक विभाग (संपत्ति) ने अंतिम तारीख (6 अप्रैल) बढ़ाने की तैयारी कर रहा है। इसके लिए विभाग ने मुख्य सचिव को प्रस्ताव भेजा है। विभाग चाहता है कि संपत्ति का ब्योरा देने की तारीख 15 अप्रैल तक बढ़ा दी जाए।


500 में से 138 अफसरों ने नहीं दिया था केंद्र को ब्योरा

प्रदेश में करीब 138 आईएएस ऐसे हैं, जिन्होंने केंद्र सरकार को ही अपनी संपत्ति का ब्योरा नहीं सौंपा था। अखिल भारतीय सेवा आचरण नियमावली के तहत आईएएस को हर साल संपत्ति का ब्योरा देना अनिवार्य है। इन अफसरों में अपर मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव रैंक तक के अधिकारी शामिल हैं।