छात्र ने दी जान देने की धमकी, मंत्री नजरअंदाज कर चलते बने

पंकज चौधरी, इलाहाबाद (18 अप्रैल): ब्रिज के पिलर पर चढ़कर एक छात्र कूदकर जान देने की धमकी देता रहा, लेकिन मंत्री जी उसे नजरअंदाज कर मौके से चलते बने। मामला यूपी के इलाहाबाद का है। बीजेपी विधायक के कॉलेज में ज्यादा फीस वसूलने का आरोप लगाते हुए छात्र प्रदर्शन कर रहे थे। खास बात ये है कि आज से परीक्षा है, लेकिन पैसों को लेकर कॉलेज ने एडमिड कार्ड देने से मना कर दिया।


कॉलेज की मनमानी से परेशान एक छात्र डेढ़ सौ फीट ऊंचे यमुना ब्रिज के पिलर पर जा चढ़ा। वहां से कूदकर वो अपनी जान देने की धमकी देने लगा। नीचे उसके साथी अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन करते रहे। इलाहाबाद में भीषण गर्मी के बीच अपनी मांग मनवाने के लिए घंटों तक पंकज कुमार राम नाम का छात्र 150 फीट की ऊंचाई वाले पिलर के ऊपर खड़ा रहा। इस दौरान वहां से योगी सरकार के मंत्री नंद गोपाल नंदी भी गुजरे। छात्र के पिलर पर चढ़कर जान देने की बात उनके कानों में पड़ी तो उन्होंने अपनी गाड़ी में बैठे-बैठे इसके बारे में जानना भी चाहा।


हैरानी की बात ये है कि छात्र की सुध लेना तो दूर मंत्री जी ने ज्यादा कुछ सुनने की जहमत भी नहीं उठाई। बाकी लोग जाम में फंसे रहे, लेकिन मंत्री जी अपनी गाड़ी को आगे बढ़वाते हुए चलते बने। पिलर पर चढ़ा छात्र नैनी के किशोरी लाल कॉलेज का बीटीसी का छात्र है। ये कॉलेज बीजेपी विधायक अजय भारतीय का है। आरोप है कि यहां छात्रों से अवैध तरीके से ज्यादा फीस वसूली जा रही है। पैसों की मांग पूरी नहीं करने के चलते छात्रों का एडमिट कार्ड रोक लिया गया। जबकि परीक्षा आज से ही शुरू होने वाली है।


हंगामा और जाम के बाद भी प्रशासन की तरफ से कोई मौके पर नहीं पहुंचा। गुस्साए छात्रों को पुलिस समझाने-बुझाने की कोशिश करती रही। इस दौरान दोनों में नोकझोंक भी हुई। घंटों मशक्कत के बाद कार्रवाई का भरोसा देकर जाम खुलवाने में पुलिस कामयाब हुई। 6 घंटे तक पिलर पर चढ़े रहने के बाद पंकज नाम के छात्र को वहां से नीचे उतारा गया।