नए घर में शिफ्ट होंगे सीएम योगी, एसी और पलंग हटवाए

अशोक तिवारी, लखनऊ (29 मार्च): यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने सरकारी आवास में गृह प्रवेश करने

वाले हैं। पूजा-पाठ और पारंपरिक विधि विधान के साथ योगी आदित्यनाथ लखनऊ के 5 काली दास मार्ग में शिफ्ट हो जाएंगे। इस दौरान मुख्यमंत्री आवास पर यूपी सरकार के मंत्री और बीजेपी नेता भी शरीक होंगे, जिन्हें मुख्यमंत्री फलाहार कराएंगे।


आज से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का नया पता लखनऊ का 5 कालिदास मार्ग होगा। यूपी के सीएम पद की शपथ लेने के ठीक दस दिन बाद योगी आदित्यनाथ अपने सरकारी आवास में शिफ्ट होने जा रहे हैं। इन दस दिनों में सीएम के सरकारी आवास को योगी के मनमुताबिक बनाने के पूरी कोशिश की गई है।


सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक गृह प्रवेश से पहले नवरात्र की कलश पूजा की जाएगी। गोरखनाथ मंदिर से आए पुजारी खुद पूजा के साऱे विधि विधाना पूरे करेंगे। कहा ये भी जा रहा है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी इस खास पूजा में शरीक हो सकते हैं।


बताया जा रहा है कि पूजा-पाठ के बाद बंगले में सरकार के मंत्री और बीजेपी के बड़े नेता भी मुख्यमंत्री के मेहमान बनेंगे। इस दौरान योगी आदित्यनाथ अपने सभी मेहमानों को फलाहार कराएंगे। खुद मुख्यमंत्री भी अपने मेहमानों के साथ फलाहार करेंगे।


नए मुख्यमंत्री के स्वागत के लिए 5 कालीदास मार्ग को पूरी तरह से सजा दिया गया है। य़ोगी आदित्यनाथ के मिजाज के हिसाब से घर को पूरी तरह से बदल दिया गया है। यहां तक कि घर के बाहर लगी योगी के नाम की नेम प्लेट को भी दस दिनों बाद बदल दिया गया है। बताया जा रहा है कि योगी ने कई ज्योतिषों और धर्माचार्यों के कहनमे के बाद अपने नाम की नेमप्लेट में ये बदलाव कराया है।


पिछले मुख्यमंत्री के वक्त ये घर महंगी क्रॉकरी और फर्नीचर से सजा हुआ था, लेकिन अब इसे नए मुख्यमंत्री के मुताबिक रंग दिया गया है। महंगे सोफे की जगह जमीन पर बैठने का इंतजाम किया गया है। बेडरूम में महंगे बिस्तरों को बदलकर सिर्फ एक तख्त रखा गया है। बताया जा रहा है कि लकड़ी के इस तख्त पर गद्दा भी नहीं है, बल्कि सिर्फ एक चादर बिछी है।


जानकारी के मुताबिक योगी आदित्यनाथ ने अपने कमरे से एसी भी हटवा दिया है। किसी भी मुख्यमंत्री के लिए सबसे खास खाना पकाने वाला उसका शेफ़ होता है, लेकिन योगी आदित्यनाथ अपने किचन के लिए कोई प्रोफेशनल शेफ नहीं लेकर आए हैं बल्कि उनके लिए गोरखनाथ मंदिर से एक भंडारी आया है।


योगी आदित्यनाथ डाइनिंग टेबल पर बैठकर खाना नहीं खाएंगे बल्कि उन्हें ज़मीन पर ही खाना परोसा जाएगा। इसके अलावा मुख्यमंत्री ने अपने इस नए घर से चमड़े का सामान भी बाहर करवा दिया है। इतना ही नहीं मुख्यमंत्री के आवास में एक गौशाला भी होगी। खुद योगी आदित्यनाथ इन गायों की सेवा भी करेंगे।