अब दिल्ली के पुलिस स्टेशनों में रेगुलर लगेंगी 'योगा क्लासेस'

नई दिल्ली (30 अप्रैल): अब जल्दी ही दिल्ली के पुलिस स्टेशनों में योगा मैट्स बिछी दिखाई देंगी। पुलिसकर्मी अपनी कमर के ऊपर की चर्बी कम करने के लिए इन पर कसरत करते दिख रहे होंगे। 

'इंडिया टुडे' की रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस फोर्स जो अक्सर अपने काम की प्रकृति की वजह से अक्सर ऊंचे तनाव में रहती है। यही एक वजह है कि उनके लिए नियमित रूप से योग की कक्षाएं करवाई जाएंगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस अभ्यास को पुलिस स्टेशनों में अनिवार्य करने की इच्छा जाहिर की है।

बताया जा रहा है, योगगुरु रामदेव इसके लिए स्टार ट्रेनर होंगे। उन्हें पुलिस स्टेशनों में जाने के लिए कहा जाएगा। दिल्ली के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, "अगर वह तैयार हो जाते हैं, तो उन्हें खास सत्रों के लिए बुलाया जाएगा।" 

केंद्र सरकार ने हर जिले में नियमित योग कक्षाएं लगाने के लिए साल में 7 लाख रुपए आवंटित किए हैं। इसमें इन्सट्रक्टर्स का वेतन और ट्रेनिंग प्रोग्राम के लिए दूसरी जरूरतें शामिल हैं। 

अधिकारी ने कहा, "योग का दिल्ली पुलिस पर काफी सकारात्मक असर होगा। खासकर जो कठिन काम करते हैं। यह कदम केवल दिल्ली पुलिस के लिए नहीं है, बल्कि दूसरे राज्यों को भी इसमें शामिल किया जा सकता है।"

आयुष मंत्रालय ने देश भर की फोर्सेस से योग ट्रेनिंग प्रोग्राम चालू करने के लिए कहा है। दिल्ली पुलिस योग इंस्ट्रक्टर्स की भर्ती शुरू करेगी। जिनके पास योग में कम से कम 55 फीसदी अंकों के साथ एक डिग्री या डिप्लोमा होगा। इसके अलावा उनके पास दो सालों का योग प्रशिक्षण का अनुभव भी होना चाहिए। दिल्ली में डेप्यूटी कमिश्नर्स ऑफ पुलिस स्टाफ के लिए कक्षाएं लगाने के लिए जिम्मेदार होंगे।