ऑपरेशन 'कोख के कातिल'...

तिलक भारद्वाज, यमुनानगर (29 अप्रैल) : जिस देश में कन्या को देवी का दर्जा दिया जाता है, उसी देश में एक ऐसा इलाका भी है जहां जन्म से पहले ही कन्या को कोख में कत्ल करने के बाद नदी  में बहा दिया जाता है। रोंगटे खड़े कर देने वाली यह हकीकत हरियाणा के यमुनानगर की है, जहां मोबाइल लिंग परीक्षण करने वाले रैकेट का पर्दाफाश हुआ है।

मामला मुनानगर के कलानौर का है। यूपी-हरियाणा सीमा के बीच स्वास्थ्य विभाग को सूचना मिली कि कुछ लोग गर्भवती महिलाओं के भ्रुण की जांच करवाते है और बेटी होने पर मार देते हैं। तो विभाग ने पकड़ने के लिए फर्जी ग्राहक ढूंढ कर उन्हें इस काम में लगाया। 

कलानौर से फर्जी ग्राहक को एक महिला अपने साथ ले गई। कार में वीरान रास्तों से होकर गर्भवती महिला को यमुना नदीं कि करीब पहुंचा गई। कार में ही अल्ट्रासाउंड मशीन पहुंचाई गई और पेट में पल रहे भ्रूण की जांच कर यह बता दिया कि उसके पेट में पल रहा भ्रुण लडकी का है।

इसके आगे कोख का कत्ल हो पाता कि उससे पहले ही प्रशासन की टीम जो इस रैकेट का पीछा कर रही थी धावा बोल दिया। पुलिस ने आरोपियो को पकड़कर पूरे मामले की पड़ताल शुरू कर दी है।