यमुना एक्सप्रेस-वे पर चलने वाले 22538 ड्राइवरों के लाइसेंस होंगे रद्द

जावेद हुसैन, नोएडा (13 जुलाई): एक्सप्रेस-वे पर बेलगाम ड्राइविंग का शौक रखने वालों को अब बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ेगा। अगर एक्सप्रेस-वे पर ट्रैफिक रुल तोड़ा तो लाइसेंस रद्द कर दिया जाएगा। गौतमबुद्ध नगर प्रशासन ने बकायदा देशभर के 22 हजार 538 गाड़ी मालिकों के ड्राइविंग लाइसेंस निरस्त करने के आदेश जारी कर दिए हैं।


नए आदेश में सरकार ने बेलगाम ड्राइवरों पर शिकंजा कसना शुरू भी कर दिया है। सबसे पहले इसकी शुरुआत दिल्ली से सटे यमुना एक्सप्रेस-वे पर बेलगाम ड्राइवरों को पहचान कर लाइसेंस रद्द करने की प्रक्रिया शुरू भी कर दी गई है।


- यमुना एक्सप्रेस वे पर बेलगाम ड्राइवरों पर शिकंजा

- अप्रैल से मई तक 20 राज्यों के ड्राइवरों को चालान

- देश के 22,538 गाड़ी मालिकों के ड्राइविंग लाइसेंस निरस्त किए जाएंगे

- 110842 गाड़ी मालिकों को चालान भुगतना होगा

- दिल्लीवालों ने सबसे ज्यादा तोड़ा एक्सप्रेव पर कानून

- दिल्ली के 57 हजार 301 लोगों ने तोड़े ट्रैफिक नियम


इस आदेश के बावत गौतमबुद्दनगर के जिलाधिकारी ने संबंधिंत राज्यों और जिलों को लागू करने के लिए रिपोर्ट भेज दी है। ड्राइविंग लाइसेंस की रद्द की जानकारी देने के लिए गाड़ी मालिकों को भी ई-मेल और पोस्ट से चालान और ड्राइविंग लाइसेंस निरस्त होने की जानकारी भेज दी गई है।


यमुना एक्सप्रेस वे पर हो रही लगातार मौतों की वजह से गौतमबुद्ध नगर प्रशासन ने एक्शन प्लान तैयार किया जिसके बाद जेपी कंपनी, एआरटीओ और पुलिस-प्रशासन के साथ मिलकर बेलगाम ड्राइवरों पर कार्रवाई की गई।


- गाड़ी मालिक को जिले के आरटीओ दफ्तर में जाकर चालान भुगतना होगा

- नोटिस के साथ कब और कैसे ट्रैफिक रुल तोड़ा उसकी जानकारी दी जाएगी

- यमुना एक्सप्रेस वे के बाद दूसरे एक्सप्रेस वे पर व्यवस्था लागू की जाएगी