ब्रिक्स समिट से पहले जिनपिंग-मोदी के बीच होगी द्विपक्षीय वार्ता

नई दिल्ली(13 अक्टूबर): गोवा में ब्रिक्स समिट से पहले 15 अक्टूबर को चीन के राष्टपति शी जिनपिंग और पीएम मोदी के बीच द्विपक्षीय वार्ता होगी। दोनों देशों के बीच होेने वाली ये मुलाकात कई मायनों में अहम रहने वाली है। 

- बता दें भारत दौरे से पहले चीन ने आतंकी अजहर मसूद को लेकर फिर पुराना रुख दोहराया। चीन ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र में जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर पर प्रतिबंध लगवाने की भारत की मुहिम पर चीन ने कहा कि आतंकवाद का मुकाबला करने के नाम पर किसी को ‘राजनीतिक फायदा’ नहीं उठाना चाहिए।

- चीन ने कहा कि वह एनएसजी में भारत के प्रवेश को लेकर बातचीत के लिए तैयार है, लेकिन अजहर पर पाबंदी के नाम पर किसी को राजनीतिक फायदा उठाने का विरोध करता है। इसी हफ्ते शी के भारत दौरे से पहले चीन ने मीडिया ब्रीफिंग के दौरान अपना ये रुख सामने रखा।

-2011 में ब्रिक्स समूह का गठन हुआ था जिसमें ब्राज़ील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका शामिल थे। इसका मकसद अपने आर्थिक और राजनीतिक प्रभाव से पश्चिम के आधिपत्य को चुनौती देना है।