चीनी राष्ट्रपति का शरीफ से नहीं मिलने का यह है कारण

नई दिल्ली(11 जून): कजाकिस्तान की राजधानी अस्ताना में एससीओ सम्मेलन में चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से दूरी बना कर रखी।शरीफ शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) में हिस्सा लेने के बाद वापस लौट गए। इससे पहले सम्मेलन में उन्होंने रूस, कजाकिस्तान, उज्बेकिस्तान और अफगानिस्तान के राष्ट्रपतियों से मुलाकात की, लेकिन वहीं पास में खड़े चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से उनकी मुलाकात नहीं हुई।


- चीनी सरकारी मीडिया ने कजाक राष्ट्रपति नूरसुल्तान नजरवायेव, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन से शी की मुलाकात पर फोकस किया है।


- गौरतलब है कि चीनी राष्ट्रपति पाकिस्तानी प्रांत के बलूचिस्तान में दो चीनी नागरिकों के अपहरण और उनकी हत्या को लेकर आहत हैं और देश की जनता में दुख और गहरी निराशा के बाद जिनपिंग ने शरीफ से मुलाकात नहीं की।


- दरअसल बलूचिस्तान के क्वेटा में मई में दो चीनी नागरिकों का अपहरण कर (आइएस) के आतंकियों ने बर्बरतापूर्वक हत्या कर दी। इस वारदात से चीनी नागरिकों में बेहद नाराजगी थी। खास बात यह है कि इन हत्याओं की खबर 8-9 जून को आयोजित एससीओ की बैठक से पूर्व सार्वजनिक हुई।


- हालांकि, चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चनिंग ने शुक्रवार को कहा था कि इन हत्याओं का 'चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे' (सीपीईसी) से कोई लेना-देना नहीं है।