WWC Final: भारत के लिए फिर लकी साबित होगा लॉर्ड्स, देश मांग रहा है दुआ

नई दिल्ली (23 जुलाई): क्रिकेट का मक्का कहने जाने वाला लॉर्ड्स का मैदान 34 साल पुराने अपने इतिहास को दोहराने के दहलीज पर खड़ा है। आज से 34 पहले 1983 में कपिल देव की अगुआई में भारत वेस्टइंडीज को हराकर चैंपियन बना था। अब मिताली राज के नेतृत्व में सामने मेजबान इंग्लैंड की चुनौती है।

पूरा देश जीत के लिए दुआ मांग रहा है। वहीं भारतीय टीम के हौसले भी बुलंद हैं। भारतीय महिला टीम चैंपियन ऑस्ट्रेलिया मात देकर सेमीफाइनल में पहुंची। वहीं टीएम इंडिया अपने लीक मैच में इंग्लैंड को परास्त कर चुकी है। भरत अगर टूर्नामेंट का 11वां संस्करण अपने नाम कर लेता है तो ये खिताब जीतने वाली वो दुनिया की महज चौथी टीम होगी। इस जीत से न सिर्फ क्रिकेट की रिकॉर्ड बुक बदलेगी बल्कि हमेशा के लिए बदल जाएगी भारत में महिला क्रिकेट की तस्वीर भी।

भारतीय टीम इंग्लैंड के मुकाबले बेहतर फॉर्म में दिखाई दे रही है। टीम इंडिया ने वर्ल्ड कप 2017 का धमाकेदार आगाज किया है। अपने पहले ही मैच में टीम इंडिया ने मेजबान इंग्लैंड को 35 रनों से हराया था। उसके बाद वेस्टइंडीज, पाकिस्तान,श्रीलंका और न्यूजीलैंड को धूल चटाकर 7 मैचों में से 5 में जीत हासिल करके सेमीफाइनल में जगह बनाई। फिर सेमीफाइनल में 6 बार की वर्ल्ड चैंपियन ऑस्ट्रेलिया को मात देकर दूसरी बार महिला वर्ल्ड कप के फाइनल में अपनी जगह पक्की की। अगर फाइनल में भी टीम इंडिया ने इंग्लैंड के खिलाफ लीग मैच वाला प्रदर्शन किया तो भारत की बेटियां वर्ल्ड कप लेकर ही घर लौटेंगी।

फाइनल में भारत का पलड़ा मेजबान इंग्लैंड टीम पर भारी लग रहा है। भारतीय टीम में युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का अच्छा तालमेल है जो टीम की बल्लेबाजी, गेंदबाजी और फील्डिंग में दिखाई देता है। भारतीय स्पिनर फॉर्म में चल रहीं जो सीम और स्विंग कंडीशंस में भी बढ़िया प्रदर्शन कर रही हैं।

वहीं भारत के खिलाफ शिकस्त के बाद इंग्लैंड ने जोरदार वापसी की। इंग्लैंड ने सेमीफाइनल में दक्षिण अफ्रीका पर दो विकेट की रोमांचक जीत के साथ खिताबी मुकाबले में जगह बनाई है। टीम को विकेटकीपर बल्लेबाज सारा टेलर और नताली शिवर से काफी उम्मीदें होंगी। कप्तान हीथ नाइट का मानना है कि उनकी टीम ने अब तक अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं किया है और टीम खिताबी मुकाबले में ऐसा कर सकती है।

संभावित टीम...

भारत-  स्मृति मंधाना, पूनम राउत, मिताली राज (कप्तान), हरमनप्रीत कौर, दीप्ति शर्मा, वेदा कृष्णमूर्ति, सुषमा वर्मा, झूलन गोस्वामी, शिखा पांडे, राजेश्वरी गायकवाड़ और पूनम यादव

इंग्लैंड-  लॉरेन विनफील्ड, टैमी ब्यूमोंट, सारा टेलर, हीथ नाइट (कप्तान), नेटली साइवर, फ्रां विल्सन, कैथरीन ब्रंट, जेनी गुन, लौरा मार्श और अन्या श्रुब्सोले