ये है दुनिया का सबसे बड़ा होटल, इसमें हैं 10000 कमरे, हेलीकॉप्टर उतारने की भी है जगह

नई दिल्ली ( 4 जनवरी ):  दुबई में वैसे कई होटल हैं जो एक से बढ़कर एक हैं, लेकिन ये होटल अपने में एक अजूबा है। होटल ‘अब्राज कुदई’ को मक्का के मध्य में स्थित ‘मनोफिआ’ नाम की जगह पर बनाया जा रहा है। रेगिस्तान के अस्तित्व को नकारते हुए, यह 45 मंज़िल इमारत सऊदी अरब के झिलमिलाते आकाश को छूते हुए प्रतीत होगी। 10,000 कमरों, 70 रेस्टॉरेंट, एक मॉल,एक बडा प्रेयर हॉल और अंडर ग्राउंड पार्किंग वाले इस होटल को बनाने में तकरीबन 350 करोड़ रुपये खर्च किये जाएंगे।

इसके लिए सऊदी की सरकार के वित्त मंत्रालय द्वारा फण्ड पारित किया गया है। इसके स्ट्रक्चर को एक किले जैसा रूप दिया गया है, जिसकी गुम्बद जैसी दिखने वाली सेंटर बिल्डिंग चारों और से ऊँची टावर से घिरी हुई है। यह विशाल होटल 23,500 गज के एरिया में बनाया जा रहा है, जिसमें 45 मंज़िल की 12 इमारतों का निर्माण किया जाएगा। ‘अब्राज कुदई’ नाम के इस होटल को मैसर्स ‘दार अल- हंदाशाह’ ने डिज़ाइन किया है और इसके कमरों और रेस्टोरेंट्स के शानदार इंटीरियर के साथ डिज़ाइन करने का जिम्मा लंदन की जानी मानी ‘अरीन हॉस्पिटैलिटी’ कंपनी को दिया गया है।

इस होटल की 2 टावर को पूरी तरह से 5 स्टार बनाया जाएगा और बाकी बची हुई 10 टावर को 4 स्टार फैसिलिटीज के साथ तैयार किया जाएगा। यह स्तबध कर देने वाली इमारत ‘मस्जिद अल-हरम’ के दक्षिण में 2. 2 किलोमीटर की दूरी पर स्तिथ है, जो दुनियां भर के मुस्लिम समुदाय का पवित्र स्थल है, जिसमें लाखों लोग हज करने आते हैं। इस होटल के ग्राउंड फ्लोर को कमर्शियल रखा गया है, ताकि होली हरम में आने वाले लोग अपनी जरूरतों के लिए इसमें आसानी से एंट्री  कर सके।

लेटेस्ट टेक्नोलॉजी के साथ-साथ इस होटल की 4 टावर्स पर हेलीकॉप्टर के लिए हेलीपैड भी बनाए गए हैं ताकि रेगिस्तान की आने वाले लोग रेगिस्तान की ब्यूटी के साथ इसके टॉप व्यू का लुफ्त भी उठा सके। 5 स्टार जन सुविधाओं से लैस टावर्स की कुछ मंज़िलों को केवल शाही परिवारों के लिए तैयार किया जाएगा।