Russia Ukraine War: यूक्रेन से जंग के बीच राष्ट्रपति पुतिन बोले- मजबूती से लड़ रही रूसी सेना

Russia Ukraine War: रूस और यूक्रेन के बीच चार दिनों से जारी भीषण युद्ध जारी है। युद्ध के चौथे दिन रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने अपनी सेना का धन्यवाद कहा। रूसी सेना का मनोबल बढ़ाते हुए उन्होंने कहा कि मेरी सेना बहादूरी से लड़ रही है।

Russia Ukraine War: यूक्रेन से जंग के बीच राष्ट्रपति पुतिन बोले- मजबूती से लड़ रही रूसी सेना
x

नई दिल्ली: रूस और यूक्रेन के बीच चार दिनों से जारी भीषण युद्ध जारी है। युद्ध के चौथे दिन रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने अपनी सेना का धन्यवाद कहा। रूसी सेना का मनोबल बढ़ाते हुए उन्होंने कहा कि मेरी सेना बहादूरी से लड़ रही है। 


इस बीच गोमेल में रूसी प्रतिनिधिमंडल के आने और बेलारूस में बातचीत के प्रस्ताव को ठुकराए जाने के बाद रूस की ओर से कहा गया है कि गोमेल में बातचीत के लिए जगह तय करने का फैसला यूक्रेन का ही था। रूस बातचीत के लिए अपने सैन्य हमले बंद नहीं करेगा। इससे पहले यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने कहा था कि बेलारूस में बातचीत नहीं हो सकती है। वारसॉ, बुडापेस्ट, या इस्तांबुल में बातचीत संभव है, लेकिन लेकिन मिन्स्क में नहीं।


रूस के राष्ट्रपति भवन 'क्रेमलिन' ने कहा है कि बेलारूस में यूक्रेन के साथ रूस बातचीत के लिए तैयार है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने RIA Novosti को बताया कि रूस पहले से ही बातचीत के लिए तैयार है। अब मास्को यूक्रेनियन की प्रतीक्षा कर रहा है। क्रेमलिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने कहा कि प्रतिनिधिमंडल में सैन्य अधिकारी और राजनयिक शामिल हैं। पेसकोव ने कहा कि 'रूसी प्रतिनिधिमंडल बातचीत के लिए तैयार है, और हम अब यूक्रेनियन की प्रतीक्षा कर रहे हैं।'


इस प्रस्ताव के बाद यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की ने मिन्स्क में शांति वार्ता के लिए मना कर दिया है। राष्ट्रपति जेलेंस्की का कहना है कि बातचीत वार्सा, ब्रातिस्लावा, इस्तांबुल, बुडापेस्ट या बाकू में हो सकती है। उन्होंने कहा कि अन्य स्थानों पर भी वार्ता संभव हैं लेकिन उन्होंने स्पष्ट किया कि यूक्रेन रूस के द्वारा बातचीत के लिए बेलारूस के चयन को स्वीकार नहीं करता है। उन्होंने कहा कि शांति वार्ता उन जगहों पर होनी चाहिए, जहां के देश यूक्रेन के प्रति सहानुभूति रख रहे हैं। उन्होंने कहा कि बेलारूस से रूस के सैनिक यूक्रेन पर हमले कर रहे हैं, ऐसे में मिन्स्क में शांति वार्ता नहीं हो सकती है।

Next Story