Russia Ukraine War: यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस से बात की, जानें

यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने शनिवार को संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस से बात की। बता दें कि रूस द्वारा यूक्रेन पर बोले गए हमले का आज तीसरा दिन था।

Russia Ukraine War: यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस से बात की, जानें
x

कीव/नई दिल्ली: यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने शनिवार को संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस से बात की। बता दें कि रूस द्वारा यूक्रेन पर बोले गए हमले का आज तीसरा दिन था। लेकिन अभी तक इस युद्ध के रुकने के कोई ठोस आसार नज़र नहीं आ रहे हैं।




इससे पहले क्रेमलिन (मॉस्को) के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने शनिवार को कहा कि यूक्रेन के नेतृत्व द्वारा बातचीत से इनकार करने के बाद वहां रूस का सैन्य अभियान जारी है।


मॉस्को ने कहा कि राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने पहले रूसी सैनिकों को शुक्रवार को कार्रवाई रोकने का आदेश दिया था, क्योंकि वे कीव से प्रतिक्रिया की प्रतीक्षा कर रहे थे। लेकिन ज़ेलेंस्की के कार्यालय के एक सलाहकार एलेक्सी एरेस्टोविच ने यूक्रेनी मीडिया से पुष्टि की कि कीव ने रूस के साथ सशर्त वार्ता को अस्वीकार कर दी है।


ज़ेलेंस्की के कार्यालय के एक सलाहकार एलेक्सी एरेस्टोविच ने यूक्रेनी मीडिया से पुष्टि की कि कीव ने रूस के साथ वार्ता को अस्वीकार कर दिया है। इसके लिए उन्होंने मास्को द्वारा बिचौलियों के माध्यम से रखी गई "शर्तों" को दोषी ठहराया। उन्होंने कहा, "यह हमें आत्मसमर्पण करने के लिए मजबूर करने का एक प्रयास था।"


हालांकि, कुछ क्षण बाद, ज़ेलेंस्की के कार्यालय के एक अन्य अधिकारी, मिखाइल पोडोलीक ने रूसी आउटलेट आरबीसी को बताया कि कीव ने वार्ता को अस्वीकार नहीं किया। उन्होंने कहा, "निस्संदेह, यूक्रेन ने बातचीत करने से इनकार नहीं किया। यूक्रेन और राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की रूसी पक्ष की किसी भी अस्वीकार्य या अल्टीमेटम जैसी शर्तों को स्पष्ट रूप से अस्वीकार करते हैं।"


यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने शुक्रवार को कहा कि वह देशों के बीच शत्रुता समाप्त करने के लिए रूस के साथ बातचीत के लिए बैठने के लिए तैयार हैं। उसी दिन, पेसकोव ने संवाददाताओं से कहा कि मास्को मिन्स्क, बेलारूस में वार्ता करने के लिए तैयार है। बाद में उन्होंने दावा किया कि यूक्रेनी पक्ष ने पहले बैठक को वारसॉ, पोलैंड में स्थानांतरित करने की पेशकश की, और फिर जवाब देना बंद कर दिया।

Next Story