Russia Ukraine War: हाई अलर्ट! परमाणु हथियारों के इस्तेमाल और निवारण के लिए सेना रहे मुस्तैद: रूसी राष्ट्रपति पुतिन

रूसी सुरक्षा बलों के लिए हाई अलर्ट जारी करते हुए पुतिन ने कहा है- पश्चिमी देश मित्र की भाषा नहीं बोल रहे। सेना पारंपरिक हथियारों के साथ परमाणु हथियारों के निवारण और उनके इस्तेमाल के लिए मुस्तैद रहे।

Russia Ukraine War: हाई अलर्ट! परमाणु हथियारों के इस्तेमाल और निवारण के लिए सेना रहे मुस्तैद: रूसी राष्ट्रपति पुतिन
x

मॉस्को/नई दिल्ली: यूक्रेन पर रूस के हमले का आज चौथा दिन है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर तमाम आलोचनाओं के बाद भी रूस अपने कदम पीछे हटाने को तैयार नहीं है। रूस लगातार यूक्रेन के सैन्य ठिकानों और रिहायशी इलाकों को निशाना बनाकर बमबारी कर रहा है। हालांकि दोनों ही देश इस संबंध में वार्ता के लिए तैयार होने का इशारा दे चुके हैं। लेकिन इस दिशा में अभी तक किसी भी तरफ से कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है।


इस बीच रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने डराने वाला बयान जारी किया है। रूसी सुरक्षा बलों के लिए हाई अलर्ट जारी करते हुए पुतिन ने कहा है- पश्चिमी देश मित्र की भाषा नहीं बोल रहे। सेना पारंपरिक हथियारों के साथ परमाणु हथियारों के निवारण और उनके इस्तेमाल के लिए मुस्तैद रहे।


रूसी स्टेट मीडिया आरटी (RT) ने इस बारे में जानकारी सार्वजनिक करते हुए लिखा है- राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रविवार को रूस के रक्षा मंत्री सर्गेई शोइगु और चीफ ऑफ स्टाफ वालेरी गेरासिमोव के साथ बैठक के दौरान देश के रणनीतिक प्रतिरोध बलों के लिए "विशेष" अलर्ट जारी किया है।


आरटी के मुताबिक पुतिन ने कहा, "पश्चिमी देश न केवल हमारे देश के खिलाफ आर्थिक क्षेत्र में दुश्मन की तरह कार्रवाई कर रहे हैं। मैं उन नाजायज प्रतिबंधों के बारे में बात कर रहा हूं जिनसे हर कोई अच्छी तरह वाकिफ है। यही नहीं, नाटो देशों के शीर्ष अधिकारी भी हमारे देश के खिलाफ आक्रामक बयान देते हैं।"


आरटी ने आगे लिखा है- रूस के निवारक बलों के पास विभिन्न सामरिक हथियार मौजूद हैं, जिनमें परमाणु और पारंपरिक हथियार शामिल हैं। इनका उपयोग रक्षा और हमले के लिए समान रूप से किया जा सकता है। रूस की सैन्य परिभाषा के अनुसार, "रूस सैन्य बलों को रूस और इसके सहयोगियों के खिलाफ किसी भी तरह के आक्रमण को रोकने और साथ ही साथ हमलावर को हराने के लिए तैयार किया गया है, इसमें वह युद्ध भी शामिल है जिसमें परमाणु हथियारों का उपयोग हो।



 

राष्ट्रपति पुतिन का यह बयान ऐसे समय में सामने आया है जब रूसी स्टेट मीडिया ने दावा किया है कि यूक्रेन बेलारूस में रूस के साथ वार्ता करने के लिए तैयार हो गया है। बता दें कि इससे पहले यूक्रेन ने बेलारूस में रूस के साथ चर्चा करने से इन्कार कर दिया था। जानकारों के मुताबिक इस वार्ता के सफल होने की स्थिति में युद्ध के बादल छंटने की उम्मीद की जा सकती है।


गौरतलब है कि इससे पहले रूस के राष्ट्रपति भवन 'क्रेमलिन' ने रविवार सुबह (भारतीय समयानुसार) बयान जारी कर कहा था कि बेलारूस में यूक्रेन के साथ रूस बातचीत के लिए तैयार है। रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के प्रवक्ता दिमित्री पेसकोव ने RIA Novosti को बताया कि रूस पहले से ही बातचीत के लिए तैयार है। अब मास्को यूक्रेनियन की प्रतीक्षा कर रहा है।

Next Story