Covid के कारण चीन में हाहाकार: शंघाई में बंद लोग खाने को तरसे, आत्महत्या, विरोध प्रदर्शन, देखें- ये दिल दहलाने वाले वीडियो

अपने भोजन के लिए डिलीवरी स्लॉट सुरक्षित करने के लिए जूझ रहे निवासियों को भी बढ़ती कीमतों का सामना करना पड़ रहा है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे कई वीडियो में दावा किया गया है कि शंघाई के निवासियों ने भयावह स्थिति का सामना कर रहे हैं। (नोट: न्यूज 24 इन वीडियो की पुष्टि नहीं करता है।)

Covid के कारण चीन में हाहाकार: शंघाई में बंद लोग खाने को तरसे, आत्महत्या, विरोध प्रदर्शन, देखें- ये दिल दहलाने वाले वीडियो
x

शंघाई: चीन के शंघाई में एक व्यक्ति ने कोविड लॉकडाउन मानदंडों का उल्लंघन कर दिया, यह एक साधारण बात नहीं है। दरअसल, शख्स ने इसलिए रूल तोड़ा, जिससे उसे पुलिस पकड़ ले और जेल में डाल दे, जिससे कि उसे जेल में कुछ खाना मिल सके। यह कितना भयावह है। 


एक अन्य मामले में चीनी शहर में जब एक व्यक्ति को क्वारंटाइन किया गया तो उसके पीछे उसके पालतू जानवर को घर पर मारा गया। ये दावे सोशल मीडिया पर कई रिपोर्ट्स और वीडियो में किए जा रहे हैं।


2021 को याद करें जब कोविड -19 ने भारत में हजारों लोगों को ऑक्सीजन के लिए दौड़ा मारा था? तब वायरस से संक्रमित लोगों के परिजन चिकित्सा आपूर्ति प्राप्त करने और यहां तक कि मृतकों को दफनाने के लिए कब्र खोजने के लिए दर-दर भटकते देखे गए। अभी चीन के सबसे अधिक आबादी वाले शहर शंघाई में भी वैसे खतरनाक नजारे सामने आ रहे हैं।


शंघाई सबसे खराब कोविड -19 प्रकोप से जूझ रहा है, लगभग 26 मिलियन निवासियों को लॉकडाउन में धकेल दिया गया है। सख्त प्रतिबंधों के साथ, लाखों लोग अपने घरों तक सीमित रहकर और दैनिक आपूर्ति पाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। कई रिपोर्टों के अनुसार, वे चिकित्सा आपूर्ति सहित आवश्यक वस्तुओं की कमी देख रहे हैं।


अपने भोजन के लिए डिलीवरी स्लॉट सुरक्षित करने के लिए जूझ रहे निवासियों को भी बढ़ती कीमतों का सामना करना पड़ रहा है। सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे कई वीडियो में दावा किया गया है कि शंघाई के निवासियों ने भयावह स्थिति का सामना कर रहे हैं। (नोट: न्यूज 24 इन वीडियो की पुष्टि नहीं करता है।)


कई ट्विटर उपयोगकर्ताओं ने माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट पर वीडियो को शेयर किया, जिसमें ऐसे लोग दिखाई दे रहे हैं, जिन्हें अपने घरों से बाहर निकलने से रोक दिया गया था, वे मदद के लिए अपनी खिड़कियों से चिल्ला रहे थे। नीचे एक वीडियो देखें।



एक अन्य वीडियो में भी दावा किया गया है कि निवासियों को सख्त चिल्लाते हुए दिखाया गया है, कि 'मदद करो, मदद करो, मदद करो, हमारे पास खाने के लिए कुछ नहीं है।'



जबकि एक अन्य वीडियो में लोगों को विरोध करते हुए देखा गया, एक व्यक्ति को चिल्लाते हुए सुना गया, 'मैं भूख से मर रहा हूं! मैं भूख से मर रहा हूं!'



आदमी गिरफ्तार होने के लिए उल्लंघन करता है

चीन की वाणिज्यिक राजधानी शंघाई ने बुधवार को पहले ही चेतावनी दी थी कि जो कोई भी कोविड -19 लॉकडाउन नियमों का उल्लंघन करेगा, उससे सख्ती से निपटा जाएगा।


हालांकि, एक व्यक्ति ने शंघाई में कोविड लॉकडाउन मानदंडों का उल्लंघन किया और एक पुलिसकर्मी के पास जा पहुंचा, उसे गिरफ्तार करने की भीख मांगी ताकि उसे जेल में कुछ खाने को मिले।


एक ट्विटर यूजर ने सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर करते हुए कहा, 'शंघाई में इस शख्स ने जानबूझकर कोविड लॉकडाउन का उल्लंघन किया और पुलिस वाले से भीख मांगने के लिए उसे गिरफ्तार करने के लिए संपर्क किया ताकि वह खाने के लिए जेल में रहे।'


शंघाई में मौन विरोध और दंगे

शंघाई में दहशत यहीं खत्म नहीं होती है। कई अन्य उपयोगकर्ताओं ने दावा किया कि शंघाई में भोजन और आवश्यक वस्तुओं की कमी को लेकर छोटे-छोटे दंगे और विरोध प्रदर्शन हुए।





और पढ़िए -  शंघाई में कोरोना ने मचाया कहर, भारतीय दूतावास ने भी काम किया बंद, यहां संपर्क करने को कहा






चीन के सबसे धनी शहर में लोगों को सुपरमार्केट में 'तोड़फोड़ और लूट' करते देखा गया। एक वीडियो देखें


इस बीच, शंघाई के अन्य निवासियों ने मौन विरोध किया। उन्होंने घरों में भोजन की कमी पर अपनी चिंता व्यक्त करने के लिए अपने खुले रेफ्रिजरेटर को अपनी बालकनियों में रख दिया।






और पढ़िए -  दुनिया से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें










Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story