काबुल के गुरुद्वारा कार्ते परवान में आतंकी हमले के बाद गुरु ग्रंथ साहिब को सुरक्षित निकाला गया

अफगानिस्तान के काबुल में गुरुद्वारा कार्ते परवान में कई विस्फोट हुए। हमले के पीछे ISIS खुरासान का हाथ होने का शक है। विदेश मंत्रालय स्थिति पर नजर रखे हुए है। सूत्रों के मुताबिक गुरुद्वारे के पूरे परिसर में आग लगा दी गई।

काबुल के गुरुद्वारा कार्ते परवान में आतंकी हमले के बाद गुरु ग्रंथ साहिब को सुरक्षित निकाला गया
x

काबुल: पवित्र ग्रंथ, गुरु ग्रंथ साहिब, को काबुल के गुरुद्वारा कार्ते परवान से सुरक्षित रूप से हटा दिया गया है, जहां आज एक आतंकवादी हमला हुआ था। सूत्रों के अनुसार, ग्रंथ साहिब को बचाने के लिए अफगान सिख गुरुद्वारा परिसर में घुस गए, जहां आग लगी हुई थी।


वे पवित्र ग्रंथ को उसकी पवित्रता और सिद्धांतों के अनुसार बनाए रखने और उसकी पूजा करने के लिए गुरनाम सिंह के निवास पर ले गए।






और पढ़िए - Earthquake in Taiwan: भूकंप के जोरदार झटकों से हिला ताइवान, रिक्टर स्केल पर 5.8 रही तीव्रता





अफगानिस्तान के काबुल में गुरुद्वारा कार्ते परवान में कई विस्फोट हुए। हमले के पीछे ISIS खुरासान का हाथ होने का शक है। विदेश मंत्रालय स्थिति पर नजर रखे हुए है। सूत्रों के मुताबिक गुरुद्वारे के पूरे परिसर में आग लगा दी गई।


हमला काबुल के हिसाब से सुबह 7:15 बजे (भारत समयानुसार सुबह 8.30 बजे) से शुरू हुआ। इस घटना में सविंदर सिंह और गुरुद्वारा के गार्ड के रूप में पहचाने जाने वाले 60 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि तीन तालिबान सैनिक घायल हो गए। तालिबान सैनिकों ने दो हमलावरों को घेर लिया। माना जा रहा है कि कम से कम 7-8 लोग अभी भी अंदर फंसे हुए हैं, लेकिन संख्या की पुष्टि नहीं हुई है।







और पढ़िए -  दुनिया से जुड़ी खबरें यहाँ पढ़ें







 

Click Here - News 24 APP अभी download करें

Next Story