World Tour Finals: पीवी सिंधु ने रचा इतिहास, जापान की नोजोमी को हराकर जीता खिताब

Image Source: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (16 दिसंबर): भारत की स्टार खिलाड़ी पीवी सिंधु ने वर्ल्ड टूर फाइनल्स में खिताब जीतकर इतिहास रच दिया है। आज यानी कि रविवार को खेले गए महिला एकल फाइनल में उन्होंने जापान की नोजोमी ओकुहारा को 21-19, 21-17 से हराकर पहली बार इस टूर्नामेंट के खिताब पर जीत दर्ज की है। बता दें कि पिछले साल खेले गए फाइनल में भी इन दोनों खिलाड़ियों का सामना हुआ था जिसमें ओकुहारा ने सिंधु को हराया था।


सिंधु के अगर पहले मैच की बात की जाए तो आपको बता दें कि मैच की शुरुआत ही आक्रामकता से की। हालांकि मैच का पहला पॉइंट ओकुहारा ने जीता लेकिन सिंधु ने जल्द ही वापसी करते हुए बढ़त बना ली। उन्होंने अपनी लंबाई का फायदा उठाते हुए अच्छे स्मैश लगाए और शटल को जापानी खिलाड़ी की पहुंच से दूर रख पॉइंट्स बटोरे।


बता दें कि सिंधु 5-1 से आगे थी इसके बाद ओकुहारा ने कुछ वापसी करते हुए अंतर को कम करके स्कोर को 7-5 कर दिया। हालांकि इसके बाद सिंधु ने फिर अच्छा कोर्ट कवर किया और नोजोमी ओकुहारा को कुछ गलतियां करने पर कमजोर किया। पहले गेम में ब्रेक तक सिंधु 11-6 से आगे थीं।


ब्रेक के बाद सिंधु ने अपनी बढ़त को बढ़ाकर 14-6 कर लिया। यहां लगने लगा था कि सिंधु इस गेम में आसानी से जीत हासिल कर लेंगी लेकिन जापानी खिलाड़ी ने अपनी रणनीति में बदलाव किया। उन्होंने अच्छा कोर्ट कवर किया और सिंधु के लिए पॉइंट्स हासिल करने मुश्किल कर दिए। स्कोर 16-16 तक बराबर पहुंच गया। दोनों खिलाड़ियों के बीच काफी संघर्ष देखने को मिला। सिंधु ने 20-17 की बढ़त बना ली लेकिन ओकुहारा ने दो पॉइंट्स जीतकर मैच को और भी ज्यादा रोमांचक बना दिया। लेकिन मैच के आखरी दौर में सिंधु कमाल कर दिया। उन्होंने मैच के आखिर में अंक जीतकर पहला गेम 21-19 से अपने नाम कर लिया।


वहीं अगर दूसरे मैच की बात की जाए तो बता दें कि सिंधु ने गेम की शुरुआत 3 अंक जीतकर की। हालांकि ओकुहारा ने भी जबर्दस्त वापसी की। उन्होंने कुछ अच्छे पिक किए और सिंधु पर दबाव बनाए रखने का प्रयास किया। लेकिन भारतीय खिलाड़ी ने हर शॉट का अच्छा जवाब दिया। ब्रेक तक सिंधु 11-9 से आगे थीं। इसके बाद सिंधु और ओकुहारा के बीच कड़ी प्रतिस्पर्धा नजर आई। आखिर में सिंधु ने दूसरा गेम 21-17 से अपने नाम कर लिया।