भारत के सर्जिकल स्ट्राइक की वर्ल्ड मीडिया ने की तारीफ, बताया सबसे बड़ी कारवाई

नई दिल्ली(30 सितंबर): भारत के पैरा कमांडोज ने पहली बार एलओसी क्रॉस कर आतंकी कैंपों को निशाना बनाया। बुधवार को देर रात हुए इस सर्जिकल स्ट्राइक में 38 आतंकी मारे गए। वर्ल्ड मीडिया ने इसे भारत की अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई बताया है।

- वहीं पाकिस्तान के एनालिस्ट और नरेंद्र मोदी के आलोचक माने जाने वाले सैयद तारिक पीरजादा ने कहा कि भारत ने सर्जिकल स्ट्राइक किया है, इसमें किसी को संदेह नहीं होना चाहिए। 

- पीरजादा ने मामले में एक के बाद एक कई ट्वीट किए। उन्होंने लिखा, अगर किसी को सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर शक है तो...(बता दूं कि) पाक पीएम कभी भी सीजफायर वॉयलेशन के मसलों पर बयान जारी नहीं करते हैं।' 

- अगले ट्वीट में लिखा, 'अगर पाकिस्तान ऐसे सर्जिकल स्ट्राइक से इनकार करता है तो भारतीय सेना के पास भविष्य में अपनी मर्जी से ऐसे ऑपरेशन फिर से अंजाम देने का मौका रहेगा।' 

- फिर अगले ट्वीट में लिखा, 'पाक पीएम- हम भारतीय सेना की आक्रामकता की निंदा करते हैं। आईएसपीआर-एलओसी के पास छुटपुट फायरिंग। कुछ खास नहीं हुआ। इज्जत बचाने को लेकर परेशान...।'

- उन्होंने आगे लिखा, 'सूत्र बताते हैं कि पीओके में आतंकी कैंपों पर हमले में 100 से ज्यादा आतंकी मारे गए हैं।' 

- 'पाकिस्तानी मीडिया और सत्ता सोचती है कि पाक की जनता बेवकूफ है जो भारत की कार्रवाई को नजरअंदाज कर देंगे।' हालांकि, अंत में लिखा, 'पाकिस्तान म्यांमार नहीं है। धन्यवाद।'

वर्ल्ड मीडिया ने क्या कहा..

- बीबीसी :पाकिस्तान के खिलाफ सख्त कदम उठाने के वादे के साथ सत्ता में आए मोदी पर उड़ी हमले के बाद भारी दबाव था। पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक भारत का अबतक का सबसे खतरनाक हमला है।

- द न्यूयॉर्क टाइम्स :भारतीय आर्मी का सीमा पार जाकर कार्रवाई करना अप्रत्याशित है। 1999 के करगिल वॉर के दौरान भी भारत ने एलओसी पार नहीं की थी। मोदी के सत्ता में आने के बाद सेना को फ्री हैंड मिला हुआ है। म्यांमार भी सेना ने ऐसा ही हमला किया। ऐसे में परमाणु से लैस दो पड़ोसी देशों के बीच तनाव चरम पर है।