ये है दुनिया की पहली ट्रांसफॉर्मर कार, 50 सेकंड में BMW से बन जाती है रोबोट

नई दिल्ली(23 सितंबर): तुर्की के 12 इंजीनियरों और चार टेक्नीशियन की टीम ने एक साधारण कार को रोबोट में तब्दील कर दिया। यह अपने आप में दुनिया की पहली ट्रांसफॉर्मर कार है। 

- यह रोबोट कार रिमोट से चलती है। इसे बनाने में 8 महीने लगे। इसके दो हाथ हैं और सिर भी है। हाथ और सिर में मूवमेंट हो सकता है। हालांकि रोबोट बनने के बाद यह मशीन चल और उड़ नहीं सकती है। खास बात यह है कि फिल्म ट्रांसफॉर्मर में कुछ ऐसे ही रोबोट को एनिमेट किया गया था। 

- कार बनाने वाली कंपनी लैटरॉन का का कहना है कि अभी 5 रोबोट बनाए गए हैं। जल्द ही इसे चलाने के लिए फंक्शन जोड़ा जाएगा। 

- कार पर रिसर्च पूरी हो गई है। इसके बाद बिक्री के लिए इसे बाजार में उतारा जाएगा।

- रिमोट से चलाने के लिए इसमें इलेक्ट्रिक इंजन लगाया गया है। 

- रोबोट में बदलने पर यह कार चल नहीं पाती है। इंजीनियरों का कहना है कि इसे चलाने के लिए फंक्शन एड कर दिए जाएंगे। 

- पहले गाड़ी के दरवाजे खुलते हैं और ब्लेड जैसे हाथ बाहर निकल आते हैं। इसके बाद गाड़ी की छत से रोबोट का सिर बाहर आता है। और 50 सेकंड में गाड़ी एक ह्यूमनाइड रोबोट में बदल जाती है।