वर्ल्ड कप में विराट कोहली का विकेट लेना चाहता है ये गेंदबाज़

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (22 मई): टीम इंडिया इंग्लैंड में होने वाले आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के लिए कल देर रात रवाना हो गई। रवाना होने से पहले विराट ने उम्मीद जताई कि टीम इंडिया तीसरी बार वर्ल्ड कप जीत सकती है। विराट ने कहा सभी खिलाडी अच्छे फॉर्म में हैं। हम इस विश्व कप में हाई स्कोरिंग मैच की आशा कर रहे हैं। साथ ही विराट ने कहा कि ये वर्ल्ड कप उनके अब तक खेले गए तीनों विश्व कप में सबसे कठिन हैं। विराट ने कहा इस बार वर्ल्ड कप का जो फॉर्मेट है उसने टूर्नामेंट को मजेदार और कठिन बना दिया है। 

इस वर्ल्ड कप में पूरी दुनिया की नजरें दुनिया के नंबर वन बल्लेबाज विराट कोहली पर टिकी होंगी। ऐसे में एक गेंदबाज ऐसा भी है जो कोहली को अपना शिकार बनाना चाहता है। इंग्लैंड की विश्व कप टीम में अनुभवी गेंदबाजों के स्थान पर जगह पाने वाले तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर ने मंगलवार को यहां कहा कि क्रिकेट के सबसे बड़े टूर्नामेंट में उनकी निगाहें भारतीय कप्तान विराट कोहली के विकेट पर है

वेस्टइंडीज के बारबडोस में जन्में 24 साल के आर्चर को तेज गेंदबाज डेविड विली (46 एकदिवसीय) की जगह 15 सदस्यीय टीम में शामिल किया गया है। उन्होंने कुछ सप्ताह पहले इंग्लैंड के लिए पदार्पण किया है। आर्चर ने अब तक सिर्फ तीन एकदिवसीय और एक टी20 अंतरराष्ट्रीय खेला है। आर्चर ने कहा कि इंग्लैंड के दूसरे गेंदबाजों की तुलना में उन्हें ज्यादा फायदा होगा क्योंकि उन्होंने इंडियन प्रीमियर लीग में राजस्थान रायल्स के लिए खेलते हुए दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों का सामना किया है।

आर्चर ने कहा, 'मुझे लगता है कि हमारी टीम के दूसरे खिलाड़ियों की तुलना में मुझे काफी फायदा होगा। हम आईपीएल में (सत्र में) दो बार खेलते हैं, इसलिए आप उनकी कमजोरियों को जानते हैं। आप उनकी ताकत को जानते हैं, आप जानते हैं कि वे विकेटों के बीच नहीं दौड़ सकते. यह आपको अंदर की अतिरिक्त जानकारी देता है।'

आर्चर ने स्काई स्पोर्ट्स से कहा, 'मैं विराट को आउट करना चाहूंगा, क्योंकि आईपीएल में मैं उनका विकेट नहीं ले पाया था। मुझे लगता है ज्यादातर मैचों में लेग स्पिनर ने उनका विकेट लिया था। मैं एबी डिविलियर्स के खिलाफ भी गेंदबाजी करना चाहूंगा, लेकिन अब वह दक्षिण अफ्रीका के लिए नहीं खेलते है। 'उन्होंने कहा, 'मैं क्रिस गेल का विकेट भी लेना चाहूंगा।' उन्होंने कहा कि आईपीएल में खेलने से उन्हें विश्व कप की तैयारी करने में मदद मिली।