#WCFDay3: यमुना तट पर हजारों लोगों ने किया 'गाइडेड मेडिटेशन'

नई दिल्ली (13 मार्च): राजधानी दिल्ली में पिछले दो दिनों में बारिश से प्रभावित होने के बाद भी यमुना के तट पर 'वर्ल्ड कल्चर फेस्टिवल' का आयोजन किया गया। रविवार को इस भव्य आयोजन का अंतिम दिन था। यह कार्यक्रम आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर के 'आर्ट ऑफ लिविंग फाउंडेशन' के सौजन्य से किया गया।

तीसरे दिन कार्यक्रम में लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन, वित्तमंत्री अरुण जेटली, शहरी विकास और संसदीय मामलों के मंत्री वैंकेया नायडू, इंफॉर्मेशन एंड आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद, रेलमंत्री सुरेश प्रभु, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह समेत कई दिग्गज नेता शामिल हुए। उनके अलावा दुनिया भर के 155 देशों से प्रतिनिधि इस कार्यक्रम में शामिल हुए।

वित्तमंत्री अरुण जेटली का उद्बोधन

वित्तमंत्री अरुण जेटली ने आयोजन की तारीफ करते हुए कहा, "इतने कम समय में लोगों को जोड़ने का जो वैश्विक स्तर पर जो काम हुआ है। वह अद्भुत है।" उन्होंने कार्यक्रम में आई बाधाओं का जिक्र करते हुए कहा कि, "इस आयोजन को रोकने के लिए प्रयास भी बहुत हुए। लेकिन यहां तो पर्यावरण भी बहुत सुंदर है और ट्रैफिक की भी मुझे समस्या नहीं हुई।" 

संस्कृति, पर्यटन राज्यमंत्री महेश शर्मा का उद्बोधन

केंद्रीय संस्कृति, पर्यटन राज्यमंत्री महेश शर्मा ने आर्ट ऑफ लिविंग फाउंडेशन की पहल की खूब सराहना की। उन्होंने कहा कि "एक ऐसी संस्था जो मानव मूल्यों की बात करती हो। जो संस्था मानवता, विश्व शांति की जो बात करती हो वह यमुना को प्रदूषित कैसे कर सकती है।" उन्होंने कहा कि ऐसी बातें करने वाली नकारात्मकता को दूर करने की जरूरत है।

महेश शर्मा ने श्री श्री रविशंकर और उनके कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाया। साथ ही विश्वास भी जताया कि भविष्य में भी इस तरह के कार्यक्रम संस्था करती रहेगी।

अमित शाह का उद्बोधन

भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने वर्ल्ड कल्चर फेस्टिवल के आयोजन की तारीफ की। साथ ही 35 सालों में आर्ट ऑफ लिविंग के उद्देश्य की सफलता के लिए बधाई दी।

तीसरे दिन की झलकियां

अमेरिका के प्रतिनिधि अपना राष्ट्रीय ध्वज भेंट करते हुए

ब्रिटिश प्रधानमंत्री डेविड कैमरन का संदेश पढ़ते मैथ्यू ऑफर्ड, ब्रिटिश सांसद

कुचिपुड़ी कलाकारों का उत्साह बढ़ाते संसदीय मामलों के मंत्री वैंकेया नायडू

श्री श्री रविशंकर और लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन

रेलमंत्री सुरेश प्रभु, वैंकेया नायडू और रविशंकर प्रसाद

श्री श्री के साथ गाइडेड मेडिटेशन करते लोग

कलाकारों की प्रस्तुतियां

1000 गायकों ने दी रवींद्र संगीत की प्रस्तुति

आंध्र प्रदेश के नृत्य कुचीपुड़ी की प्रस्तुति करते 1050 कलाकार

पाकिस्तान के 50 कलाकारों की कन्टैम्पररी सूफी पर आधारित प्रस्तुति

मंगोलिया के 125 कलाकारों की प्रस्तुति

अर्जेंटीना के 148 कलाकारों की 'टैंगो' नृत्य प्रस्तुति

मंच का विहंगम दृश्य 

चीन का संदेश पढ़ते हुए चीनी धर्म गुरु