वर्ल्ड बैडमिंटन के इतिहास में पहली बार फाइनल में दो भारतीयों की हो सकती है भिड़ंत


नई दिल्ली (26 जुलाई): ग्लासगो में खेले जा रहे वर्ल्ड बैडमिंटन चैम्पियनशिप में भारत के दो मेडल पक्के हो गए हैं। पीवी सिंधु और साइना नेहवाल सेमीफाइनल में पहुंच चुकी है। ये पहला मौका है जब बैडमिंटन चैम्पियनशिप के सेमीफाइनल में दो भारतीय महिला खिलाड़ी ने अपना जगह बनाई हो।

सेमीफाइनल में सिंधु का सामना चीन की ही चेन यूफेई से होगा। सिंधु ने क्वार्टर फाइनल में थाइलैंड की रातचानोक इंतानोन को कड़े मुकाबले में 14-21, 21-16, 21-12 से मात दिया। इसके साथ ही ने वर्ल्ड चैम्पियनशिप में अपना तीसरा मेडल पक्का कर लिया। वे 2013 और 2014 में भी ब्रॉन्ज जीत चुकी हैं।

भारत की स्टार बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल ने अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए विश्व बैडमिंटन चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में प्रवेश किया। महिला एकल वर्ग के क्वार्टर फाइनल मुकाबले में साइना ने स्कॉटलैंड की क्रस्टी गिलमोउर को 21-19, 18-21, 21-15 से मात दी।

सेमीफाइनल में साइना का सामना जापान की खिलाड़ी नोजोमी ओकुहारा से होगा। दोनों के बीच अब तक हुए मुकाबले में साइना का पलड़ा ही भारी रहा है। अब तक हुए सात मुकाबलों में से छह में साइना ने जीत हासिल की है।

सिंधु और साइना अगर अपने-अपने सेमीफाइनल मैचों में जीत हासिल कर लेती हैं, तो फाइनल में दोनों खिलाड़ी आमने-सामने होंगी। वहीं, मेन्स सिंगल्स में भारत की चुनौती किदांबी श्रीकांत की हार के साथ ही खत्म हो गई।