NIT को श्रीनगर से शिफ्ट करने की मांग खारिज

श्रीनगर( 9 अप्रैल): मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधिकारियों ने एनआईटी श्रीनगर के बाहर के छात्रों की संस्थान को कश्मीर से बाहर स्थानांतरित  करने की मांग को खारिज कर दिया, लेकिन उन्हें उनके ‘वास्तविक’ मुद्दों पर विचार करने का आश्वासन दिया है। एनआईटी के बाहरी छात्रों के एक समूह ने संस्थान के हालात पर चर्चा करने के लिए उपमुख्यमंत्री निर्मल सिंह और शिक्षा मंत्री नईम अख्तर के साथ ही मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधिकारियों से शुक्रवार रात मुलकात की।

अंग्रेजी वेसबसाइट टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक एनआईटी को कश्मीर से बाहर स्थानांतरित करने की मांग को मानव संसाधन मंत्रालय के अधिकारियों ने सिरे से खारिज कर दिया। यह छात्रों को बता दिया गया है। jरिपोर्ट के मुताबिक मंत्रियों और मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधिकारियों ने हालांकि उनकी वास्तविक मांगों जैसे परिसर के अंदर बेहतर सुविधाएं देने और शैक्षिक माहौल को सुधारने पर विचार करने का आश्वासन दिया है।

एनआईटीयों के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स 11 अप्रैल को बैठक कर रहा है जहां इन सभी मुद्दों पर विचार किया जाएगा। वेबसाइट के मुताबिक मंत्रियों ने छात्रों से कहा कि एनआईटी में सुरक्षा कभी भी एक मुद्दा नहीं रहा है लेकिन राज्य सरकार सुनिश्चित करेगी कि इस मोर्चे की चिंताओं पर भी विचार किया जाए। रिपोर्ट के मुताबिक  मंत्रियों ने इस बात पर जोर दिया कि संस्थान के छात्र यहां तब आए जब आतंकवाद चरम था और कभी भी किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा।