इस सरकार का सख़्त फरमान- वोट डालना है तो बुर्का उतारो

नई दिल्ली (24 सितंबर): मिस्र की एक सांसद अमीना नासिर ने कहा है बुर्का यहूदियों की परंपरा है। इस्लाम यहूदियों की संस्कृति और परंपराओं के खिलाफ है, इसलिए किसी भी तरह का बुर्का या नक़ाब पहना गैर इस्लामिक है। उन्होंने कहा कि क़ुरान में महिलाओं के लिए कहा गया है कि वो अपना सिर ढंक कर रखे।

दरअसल, आजकल मिस्र की संसद में बुर्का पहनने पर प्रतिबंध लगाने के लिए बहस चल रही है। हालांकि मिस्र की सरकार ने एक आदेश में कहा है कि अक्टूबर में होने वाले चुनाव के दौरान उन्हीं महिलाओं को वोट डालने दिया जायेगा जो बुर्का पहन कर नहीं आयेंगी। जो महिलाएं बुर्का पहनें होंगी उन्हें वोट नहीं डालने दिया जायेगा।