यहां जमीन पर सोने को मजबूर महिला मरीज

प्रवीण जाधव, रायगढ़ (13 मार्च): महाराष्ट्र के रायगढ़ में आदिवासी महिला मरीजों के साथ ऐसा व्यवहार किया गया, जो शर्मसार करने वाला है। महिला मरीजों को बेड तक नहीं दिया गया। वहीं मरीजों के साथ आए बच्चे भी खुले में सोने को मजबूर दिखे।

परिवार नियोजन के तहत ऑपरेशन कराने आई महिलाओं को एक अदद बिस्तर भी मुहैया नहीं करवाया गया। ऑपरेशन के बाद महिलाओं को अस्पताल के वार्ड में जमीन पर अपना ठिकाना बनाना पड़ा। वहीं मरीज के परिवार वालों को बच्चों की हिफाजत के लिए रात भर जागना पड़ा और रात मच्छरों से जंग जारी रही।

आपको बता दें कि इस कैंप का आयोजन जिला चिकित्सा विभाग ने किया था, जिसमें कुल 27 महिलाओं का ऑपेरशन हुआ। इनमें अधिकांश महिलाएं आदिवासी समाज की थी। बहरहाल अब कोई भी विभाग इस बदइंतजामी की जिम्मेदारी नहीं ले रहा है, सबके सब एक दूसरे पर ठीकरा फोड़ने को तैयार हैं।

देखें वीडियो:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=-LBKAjs-sig[/embed]