IIT DELHI के हॉस्टल ने छात्राओं के लिए लागू किया ड्रेस कोड

नई दिल्ली (18 अप्रैल): आईआईटी दिल्ली के एक गर्ल्स हॉस्टल ने छात्राओं के लिए हाउस-डे को लेकर एक ड्रेस कोड लागू किया है, जिसको लेकर स्टूडेंट्स हैरान हैं और उनमें नाराजगी भी है। हॉस्टल ने छात्राओं को संस्थान के हाउस-डे दिन पूरी तरह से ढके हुए कपड़े पहनने को कहा है।


हॉस्टल ने अपनी नोटिस में कहा है कि यह कपड़ा वेस्टर्न और इंडियन दोनों हो सकता है, लेकिन कपड़े पूरी तरह ढंके होने चाहिए। हाउस-डे संस्थान में हर साल मनाया जाता है जब छात्र-छात्राएं एक घंटे के लिए बाहर से अपने हॉस्टल में गेस्ट बुला सकते हैं। इस साल यह कार्यक्रम 20 अप्रैल को आयोजित किया जाना है।


कुछ स्टूडेंट्स का कहना है कि पिछले साल भी मौखिक रूप से ऐसे ही संदेश दिए गए थे, लेकिन ऐसा पहली बार

है जब इसको लेकर नोटिस जारी कर दिया गया है। आईआईटी दिल्ली के हिमाद्री हॉस्टल की इस नोटिस पर वॉर्डन

के हस्ताक्षर हैं। इस नोटिस को 'पिजरा तोड़ ग्रुप' ने सोशल मीडिया पर शेयर किया है। यह ग्रुप महिलाओं के साथ

हॉस्टल, कॉलेज और यूनिवर्सिटी में होने वाले पक्षपात भरे रवैये के खिलाफ लड़ता है।


सोशल मीडिया पर इस नोटिस को शेयर कर इसे मॉरल पुलिसिंग करार दिया गया है। पिंजरा तोड़ ग्रुप ने फेसबुक

पर लिखा है, 'हमारे प्रशासन को महिलाओं के लिए ड्रेस तय करने की इतनी बेचैनी क्यों है?'


ऐसा पहली बार नहीं है कि जब किसी कॉलेज ने छात्राओं के लिए ड्रेस कोड लागू करने की कोशिश की हो। पिछले

साल डीयू के हिंदू कॉलेज के एक हॉस्टल ने भी छात्राओं के लिए ड्रेस कोड लागू किया था। हालांकि, कड़े विरोध के

बाद इस आदेश को वापल लेना पड़ा था।