कमरे में महिला को इस हालत में देख उड़े होश...

  नई दिल्ली (23 जुलाई):  पंजाब से एक हैरान करने वाली खबर सामने आई है। यहां पर 25 साल की युवती अल्का को जब एक पड़ोसी देखना गया तो वहां का नजारा देख उसके होश उड़ गए। पड़ोसी ने देखा कि अल्का मृत अवस्था में थी और घर का सामान बिखरा पड़ा था।

वारदात के समय अल्का घर पर अकेली थी और उसके परिवार के सभी सदस्य मजीठा के शाम नगर अपने किसी रिश्तेदार को मिलने गए थे। अल्का की शादी करीब पांच साल पहले हुई थी। हत्या के बारे परिवार को शाम पांच बजे पता लगा, जब वह लोग घर वापस लौटे। अल्का ने लुटेरों को घर में घुसते देखा तो वह उनके साथ भिड़ गई।

इस पर लुटेरों ने पहले उसके मुंह में करंट लगाया और फिर कोई तेजधार हथियार उसके पेट में घोंप दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। अल्का शादीशुदा थी और ससुराल के साथ अनबन के कारण पिछले पांच सालों से अपने मायके में ही रह रही थी।

ऐसी आशंका है कि अल्का की हत्या से पहले लुटेरों ने उसके साथ रेप भी किया। लेकिन अधिकारियों का कहना है कि मेडिकल के बाद ही क्लीयर हो पाएगा। वहीं मौके पर डीसीपी जे.एलांचेजियन, एडीसीपी क्राइम लखबीर सिंह और एडीसीपी गौरव गर्ग पहुंचे और स्थिति का जायजा लेकर बनती कार्रवाई शुरू कर दी है।

यह है पूरा मामला - गुलमोहर एवेन्यू में धर्मपाल अपनी पत्नी सुदेश, बेटा गौरव और बेटी अल्का के साथ रहते हैं। बेटे गौरव की कुछ ही महीने पहले शादी हुई है। - धर्मपाल परिवार के सभी सदस्यों के साथ दोपहर करीब 12 बजे अपने रिश्तेदार को मिलने के लिए मजीठा चले गए। अल्का को घर पर ही छोड़ गए। - रिश्तेदार के घर पहुंचने पर अल्का की मां ने बेटी को फोन किया लेकिन मोबाइल बंद था। इस पर मां ने सोचा कि शायद वह सो गई हो। - थोड़ी देर के बाद फिर से फोन किया, लेकिन फिर से नहीं मिला। करीब चार बजे पड़ोस के लड़के को अल्का के भाई ने फोन कर बोला कि घर जाकर देखे। - क्योंकि अल्का का फोन नहीं लग रहा। पड़ोसी के लड़के ने फोन पर बताया कि दरवाजा खुला है और कुत्ता भौंक रहा है। - शक होने पर सभी लोग तुरंत घर वापस आ गए और देखा तो कमरे में अल्का की लाश पड़ी थी। सभी कमरों का सामान बिखरा पड़ा था। - अलमारियों से 20 से 25 तोले सोने के गहने, चार किलो चांदी, 60 हजार रुपए नकदी और अन्य सामान गायब था। हालात कहते हैं कि अल्का ने लुटेरों का जमकर विरोध किया जिस कारण उसकी हत्या कर दी गई।