दहेज न मिला को अप्राकृतिक यौनाचार करने लगा पति !

नई दिल्ली (22 दिसंबर): दहेज दानवों की कहानी अमूमन आज के समाज में रोज सुनने को मिल जाती हैं, लेकिन दहेज की खातिर बिहार के भागलपुर में एक ऐसी कहानी सुनने को मिली जिसके सुनते ही आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे। हैवानियत ऐसी जिसे सुनकर राष्ट्रीय महिला आयोग के सदस्यों के पैरों के तले की जमीन खिसक गई।

 

भागलपुर के चुनिहारी मुहल्ले की रहने वाली एमिटी यूनिवर्सिटी में बीएड की पढ़ाई कर रही संगीता (काल्पनिक नाम) की शादी इसी साल 29 जनवरी को भागलपुर के मुन्दीचक के रहने वाले विनय शर्मा से हुई थी। शादी के कुछ दिन बाद से ही विनय और उसके परिवार वालों ने संगीता को दहेज के प्रताड़ित करने लगे। सारी हदे पार करते हुए पति प्रताड़ना के नाम पर पत्नी के साथ अप्राकृतिक यौनाचार करने के लिए मजबूर करता। अपने पति की प्रताड़ना से तंग आकर संगीता मायके चली आई, लेकिन विनय ने यहां भी उसका पीछा नहीं छोड़ा। संगीता के घर पर विनय अपने भाई के साथ जाकर रोज धमकी देता। विनय की हरकतों से परेशान संगीता के पिता विनोद शर्मा ने भागलपुर के आदमपुर थाना में मामला दर्ज तो कराया, लेकिन पुलिस कार्रवाई करने बजाए हाथ पर हाथ रखकर बैठी रही। विनय से छुटकारा पाने के लिए संगीता को उसके पिता ने पूना एमिटी यूनिवर्सिटी बीएड करने के लिए भेज दिया। लेकिन विनय संगीता को पूना जाकर भी परेशान करने लगा।