भारत की पहली महिला जासूस रजनी पंडित गिरफ्तार

मुंबई (3 फरवरी): भारत की रजनी पंडित सुर्खियों में रहने वाली महिला जासूस है, जो बॉलीवुड से लेकर राजनीतिक हस्तियों से जुड़े व उनके परिवार व करीबी की जासूसी करती है।

रजनी पंडित पर अवैध रूप से कॉल डिटेल रिकार्ड (सीडीआर) निकलने में का आरोप है। ठाणे पुलिस ने चार निजी जासूसों की गिरफ्तारी के बाद 54 वर्षीया रजनी को गिरफ्तार किया। पुलिस ने चारों की पहचान मकेश पांडियन (42), प्रशांत पालेकर (49), जिगर मकवाना (35) और समरेश झा (32) उर्फ प्रतीक मोहपाल के तौर पर हुई।

ठाणे पुलिस ने चारों लोगों को कलावा से 24 जनवरी को गिरफ्तार किया गया। जो माहाराष्ट्र के नवी मुंबई और मीरारोड के रहवासी है, जो खुद को प्राइवेट डिटेक्टिव बताकर बड़ी आसानी से लोगों के फोन कॉल की सीडीआर निकाल कर दिल्ली में बैठे एक आदमी को 10 से 15 हजार में बेचते थे।

इन से ठाणे पुलिस ने अब तक तीन कंप्यूटर, 2 लैपटॉप, 11 मोबाइल फोन साथ ही अवैध रूप से निकाले गए 177 फाइलों को भी जब्त की है। वही अधिक पूछताछ के दौरान इन्होंने रजनी पंडित नाम सामने आया। राजनी पंडित मैगजीन, शॉट फ़िल्म, डोक्यूमेंट्री और मीडिया में हमेशा से चर्चा में रही है।