राष्ट्रीय धरोहरों को अपनी 'कलाकारी' से बदरंग करने वाले ये ख़बर ज़रूर पढ़ें...

नई दिल्ली (27 जून) :  आप देश में प्रसिद्ध स्मारकों, ऐतिहासिक स्थलों या पर्यटन स्थानों पर जाते होंगे तो अक्सर देखते होंगे किस तरह दीवारों या पत्थरों पर कुछ लोग अपना नाम लिखकर उन्हें बदरंग कर देते हैं। अमेरिका में ऐसा ही कुछ करने वाली एक महिला को ऐसी सजा दी गई है जो दूसरों के लिए भी मिसाल साबित होगी।

केसे नोकेट नाम की 23 वर्षीय इस महिला पर अमेरिका के सभी राष्ट्रीय पार्कों में प्रवेश पर पाबंदी लगा दी गई है। साथ ही उसके सोशल मीडिया अकाउंट्स को भी निलंबित कर दिया गया है। इस महिला ने संरक्षित चट्टानों पर तस्वीरें बना कर और नाम लिख कर उनका स्वरूप बिगाड़ा था।   

क्रीप्टिंग्स के नाम से भी जानी जाने वाली इस महिला ने अपनी हरकत की फोटो को इंस्टाग्राम जैसी सोशल मीडिया वेबसाइट्स पर अपलोड भी किया था। केसे नोकेट पर दो साल के प्रोबेशन के दौरान अमेरिका के सभी नेशनल पार्कों में जाने पर पाबंदी रहेगी।  

अमेरिकी मजिस्ट्रेट जज शीला के ओबर्टो ने केसे नोकेट को 200 घंटे तक कम्युनिटी वर्क करने की सज़ा सुनाई है। केसे को जुर्माना भी भरना होगा। जुर्माने की रकम कितनी होगी ये अगली सुनवाई पर तय होगा।

एक्टिंग अटॉर्नी फिलिप ए टैलबर्ट ने कहा कि कई चट्टानों को बदरंग करना अपने आप में साबित करता है कि इस महिला के दिल में क़ानून और राष्ट्रीय धरोहरों के प्रति कितना सम्मान है। नेशनल पार्क सर्विस को चट्टानों को उनके मूल स्वरूप में लाने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ी। इसके लिए 7 में से 5 नेशनल पार्कों में सफाई अभियान चलाना पड़ा।

केसे नोकेट चट्टानों पर पेंटिंग बनाने के लिए एक्रिलिक पेंट का इस्तमाल करती थी। साथ ही वहां अपना सोशल मीडिया का नाम क्रीप्टिंग्स भी लिखती थी। 2014 में 26 दिन के दौरान केसे ने अलग अलग नेशनल पार्कों में ये पेंटिंग्स बनाईं।

केसे नोकेट के इंस्टाग्राम और टम्बलर सोशल मीडिया अकाउंट्स को भी निलंबित कर दिया गया है।