ट्रंप-किम की सुरक्षा करेंगे गोरखा जवान, खुखरी और असौल्ट राइफल्स के साथ होंगे तैनात

नई दिल्ली ( 5 जून ): अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग की इस महीने सिंगापुर में मुलाकात होगी। मुलाकात के दौरान इनकी गोरखा जवान करेंगे जो वहां खुखरी और असौल्ट राइफल्स के साथ तैनात होंगे। बता दें कि नेपाली गोरखाओं को दुनिया का सबसे बहादुर योद्धा माना जाता है।राजनयिकों के मुताबिक, वैसे तो दोनों नेता अपनी व्यक्तिगत सुरक्षा टीम लाएंगे, लेकिन गोरखा जवान और स्थानीय पुलिस शिखर सम्मेलन, सड़कों और होटलों की सुरक्षा में तैनात होंगे। बता दें कि इससे पहले गोरखाओं को इस सप्ताह की शुरुआत में शांगरी-ला होटल की सुरक्षा में तैनात देखा गया था, जिसमें भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमरीकी रक्षा मंत्री जिम मैटिस और अन्य क्षेत्रीय मंत्री मौजूद थे।सिंगापुर पुलिस द्वारा चुने गए गोरखा बटालियन बेल्जियम में बनी हुई एफएन एससीएआर राइफल और पिस्टल जैसे आधुनिक हथियारों से लैस है। लेकिन इन सभी हथियारों के बावजूद गोरखा अपने साथ खुखरी जरूर रखते हैं। दरअसल, ये उनका पारंपरिक हथियार है और उनका मानना है कि जब भी खुखरी म्यान से बाहर आती है तो इसे किसी न किसी का खून ज़रूर चाहिए होता है। सिंगापुर आर्म्ड फोर्सेस के एक्सपर्ट टिम हक्सले ने कहा। 'गोरखा लोग स्पेशल ऑपरेशन के लिए ट्रेंड होते हैं, इसलिए उन्हें इस हाई लेबल मीटिंग के लिए तैनात किया जाएगा।