पोर्न देखने के एडिक्ट पति के खिलाफ पत्नी ने किया काम!

नई दिल्ली (17 फरवरी): एक महिला ने उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटाकर पोर्नोग्राफिक वेबसाइटों पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है। महिला ने दावा किया कि वह घरेलू हिंसा का शिकार हो गई है क्योंकि उसका पति पोर्न का आदी हो गया है। केमिकल इंजीनियर महिला ने कहा कि उसने गृहिणी के तौर पर अपने जीवन के 32 साल अपना वैवाहिक घर बनाने में लगाया और अपने बेहद महत्वाकांक्षी पति का उसके पूरे पेशेवर कॅरियर में समर्थन किया और दो बुद्धिमान और अनुशासित बच्चों का लालन-पालन किया, जिनका भविष्य अच्छा है।

महिला ने अपनी याचिका में कहा कि मेरे पति कुछ समय से पोर्न के आदी हो गए हैं और अपने बेशकीमती समय का काफी हिस्सा पोर्नोग्राफी को देखने में लगाते हैं। पोर्नोग्राफी आजकल इंटरनेट के माध्यम से सहज उपलब्ध है और परिणामस्वरूप मेरे पति पोनोर्ग्राफिक वीडियो, फिल्म और तस्वीरें देखने की लत का शिकार हो गए हैं। इसने मेरे पति का दिमाग विकृत कर दिया है और मेरी शादीशुदा जिंदगी को तबाह कर दिया है।