देवर से बनाए सबंध, पति को पता चला तो...

पीयूष गौड़, गाज़ियाबाद (29 जून): एक मरा हुआ इंसान पहली बार मरने के बाद सामने आया। उसने अपने कातिलों के नाम बताए और 2 दिन बाद उसका मर्डर हो गया। सेल्फी वीडियो से लगा कि उसके कातिल वही हैं जिनका नाम उसने अपने सेल्फी वीडियो में लिया, लेकिन कहानी इससे बिलकुल अलग है। पुलिस ने पूरे केस का पर्दाफाश कर दिया है और इसमें कातिल निकली उसी शख्स की बीवी।

गाज़ियाबाद के प्रॉपर्टी डीलर धीरज चौधरी के कत्ल के पीछे नाजायज़ रिश्तों की एक ऐसी कहानी है जो पूरी तरह फिल्मी है। धीरज चौधरी की पत्नी प्रीति को पता चल गया था कि उसके पति ने कर्ज़दारों का नाम लेकर एक सेल्फी वीडियो रिकॉर्ड किया है और टीवी पर हमेशा क्राइम सीरियल देखने वाली प्रीति ने इसी दौरान रच डाली कत्ल की सबसे खौफनाक साज़िश। प्रीति ने अपने ही पति के सेल्फी वीडियो को हथियार बना लिया और अपने आशिक वरुण को फोन कर धीरज के मर्डर का प्लान बना लिया।

प्रीति का ब्वॉयफ्रेंड वरुण धीरज का ममेरा भाई था, वो इनके साथ ही रहता था। मृतक धीरज चौधरी को कुछ महीने पहले किसी मामले में जेल हो गई थी। इसी दौरान प्रीति वरुण काफी करीब आ गए थे। इन 8 महीनों में प्रीति के वरुण के साथ संबंध भी बन गए थे। जेल से आने के बाद धीरज को इसकी भनक लग गई, फिर पति-पत्नी में अक्सर झगड़ा होने लगा।

इसी बीच प्रीति ने अपने पति के मर्डर प्लान में जयदीप नाम के एक शख्स को भी शामिल कर लिया। जयदीप वो शख्स था जिसने धीरज से लाखों रुपए ब्याज़ पर लिए थे। अब जयदीप के सामने भी 2 ऑप्शन थे या तो वो धीरज को पैसे लौटाए या फिर उसके कत्ल में शामिल हो जाए। जयदीप ने कत्ल में प्रीति का साथ दिया और फिर एक तारीख तय की गई। शार्प शूटर्स भेजकर धीरज का कत्ल कर दिया गया।

वीडियो:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=-PVUd4tWYIE[/embed]