हाईकोर्ट में बोली बीएसएफ जवान की पत्नी, पूरी तरह संतुष्ट व सुरक्षित हैं उनके पति

नई दिल्ली( 15 फरवरी ): फेसबुक पर खराब खाने का वीडियो और शिकायत कर सुर्खियों में आने वाले बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव को लेकर उनकी पत्नी शर्मीला ने दिल्ली हाईकोर्ट में कहा कि वह सुरक्षित हैं। शर्मीला ने कोर्ट में कहा कि उन्होंने अपने पति से मुलाकात की। उनके पति पूरी तरह संतुष्ट हैं और सुरक्षित हैं।

इसी के साथ कोर्ट ने याचिका खारिज कर दी। तेज बहादुर यादव की गुमशुदगी को लेकर दायर बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका पर सुनवाई करते हुए 9 फरवरी को न्यायमूर्ति बीडी अहमद और न्यायमूर्ति आशुतोष कुमार की पीठ ने बीएसएफ से कहा था कि जम्मू-कश्मीर के सांबा में तैनात तेज बहादुर की पत्नी शर्मिला को हर हफ्ते अपने पति से मिलने की अनुमति दे।

इस मामले में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दिल्ली हाईकोर्ट को बताया था कि बीएसएफ जवान को गिरफ्तार नहीं किया गया है, उसे बस उसे दूसरे बटालियन में शिफ्ट किया गया है।

अपने पति तेज बहादुर यादव की गुमशुदगी से संबंधित याचिका तेज बहादुर की पत्नी शर्मिला ने दायर की थी। शर्मिला और बीएसएफ जवान के परिवार ने लगातार तीन दिनों तक जवान से मिलने में विफल रहने पर यह याचिका दायर की थी।

बता दें कि बीएसएफ जवान तेज बहादुर ने जनवरी में जवानों को मेस में मिलने वाली भोजन सामग्री की गुणवत्ता पर सवाल उठाते हुए यह शिकायत की थी कि वरिष्ठ अधिकारी जवानों के लिए आने वाली खाद्य सामग्री को बेच डालते हैं। उन्होंने इस संबंध में एक वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड किया था। हालांकि, इसमें किसी अधिकारी का नाम नहीं लिया गया था। यह वीडियो खूब वायरल हुआ था।