भारत से डरा नहीं तो सीमा पर सेना की ताकत क्यों बढ़ा रहा है चीन ?

नई दिल्ली (8 सितंबर): चीनी सेना ने कहा है कि वह भारत को खुद के लिए सबसे बड़ा खतरा नहीं मानती। इसके बावजूद, वह ऐसे कदम उठा रही है, जिनका सामरिक नजरिए से भारत से कहीं न कहीं रिश्ता है।

- चीनी मिलिट्री ने अपने सभी ग्राउंड फोर्सेज को बेहद अत्याधुनिक माने जाने वाले डब्लूज़े़ड-10 कॉम्बैट हेलिकॉप्टरों से लैस कर दिया है।

- इन हेलिकॉप्टरों का इस्तेमाल टैंकों को निशाना बनाने और हवा से हवा में हमले करने के लिए किया जाता है।

- जानकार चीन के इस रणनीतिक कदम को भारत से जोड़कर देख रहे हैं।

- चीन की पीपल्स लिब्रेशन आर्मी के टीवी न्यूज चैनल पर बताया गया कि 13वीं आर्मी ग्रुप को कई डब्लूज़े़ड-10 हेलिकॉप्टर दिए गए।  

- चीनी सेना ने उन मीडिया रिपोर्ट्स को खारिज किया, जिनके मुताबिक उस्टील्थ फाइटर जे-20 को  तिब्बत में तैनात में तैनात किये जाने की बात कही है।

- जे-20 लड़ाकू विमानों की खासियत है कि वे रेडार पर नजर नहीं आते।

- खबरें आई थीं कि जे-20 को तिब्बत के देओचेंग एयरपोर्ट पर देखा गया था।

- चीनी सेना की वेबसाइट पर एक आर्टिकल में कहा गया, 'चीन और भारत की सीमा इनकी तैनाती के लिए आदर्श जगह नहीं है।