4 महीने के उच्चतम स्तर पर थोक महंगाई दर, अप्रैल में 3.18% रही

नई दिल्ली(14 मई): ईंधन और खाद्य वस्तुओं के दाम बढ़ने की वजह से अप्रैल महीने में थोक महंगाई दर 3.18 प्रतिशत रही। मार्च महीने में थोक महंगाई दर 2.47 प्रतिशत जबकि पिछले साल अप्रैल महीने में यह आंकड़ा 3.85 प्रतिशत था।वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने ताजा थोक महंगाई दर का आंकड़ा जारी करते हुए कहा, 'प्राथमिक वस्तु समूहों की खाद्य वस्तुओं एवं विनिर्मित उत्पाद समूहों के खाद्य उत्पादों के मिलेजुले थोक मूल्य सूचकांक आधारित महंगाई दर मार्च महीने में 0.07 प्रतिशत से बढ़कर अप्रैल में 0.67 प्रतिशत हो गया।'जारी आकड़ों के मुताबिक, अप्रैल महीने में ईंधन (पेट्रोल, डीजल आदि) और पावर (बिजली) के थोक भाव में 7.85 प्रतिशत, मैन्युफैक्चर्ड आइटम्स (विनिर्मित वस्तुओं) में 3.11 प्रतिशत की वृद्धि हुई जो पिछले महीने क्रमशः 4.7 प्रतिशत और 3.03 प्रतिशत थी।अप्रैल महीने में आलू के थोक मूल्य में 67.94 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी जो मार्च महीने में 43.25 प्रतिशत थी। वहीं, फलों के थोक मूल्य अप्रैल महीने में 19.47 प्रतिशत बढ़े जो मार्च महीने में 9.26 प्रतिशत बढ़ा था। हालांकि, अप्रैल महीने में प्याज और दूध के थोक मूल्य घट गए थे।