जानिए, विलेन की टांग को क्यों काटा सैफ़ अली ख़ान ने?

 

नई दिल्ली (23 मई) :  शीर्षक पढ़ कर ये अंदाज़ मत लगाने लगिएगा कि सैफ़ अली ख़ान ने किसी हालिया फिल्म की शूटिंग के दौरान गुस्से में आकर विलेन के साथ ऐसा कर डाला। जब सैफ़ ने ऐसा किया था तो उनका एक्टिंग से दूर-दूर तक का कोई वास्ता नहीं था। दरअसल, सैफ़ उस वक्त सिर्फ 2 साल के थे। वो अपनी मां  शर्मिला टैगोर के साथ फिल्म 'पाप और पुण्य' की शूटिंग में गए हुए थे। फिल्म में शर्मिला के साथ शशि कपूर एक हीरो थे।

हुआ यूं कि फिल्म के एक सीन की शूटिंग के लिए विलेन ने शशि कपूर के गले में फंदा डाल रखा था और शशि खुद को बचाने के लिए रस्सी को पकड़ कर मशक्कत कर रहे थे। सीन पूरी कमांड में था कि अचानक विलेन बड़ी ज़ोर से चिल्ला उठा। पता चला कि दो साल के सैफ़ अली ख़ान को ये बर्दाश्त नहीं हुआ था कि उनके प्यारे शशि अंकल के साथ कोई इस तरह बर्ताव करे। सैफ़ घुटनों के बल पहुंचे और विलेन की टांग पर बहुत ज़ोर से काट लिया था।

इस किस्से का ज़िक्र 'शशि कपूर :  द हाउसहोल्डर , द स्टार' किताब में किया गया है। किताब को असीम छाबड़ा ने लिखा है और रूपा पब्लिकेशंस ने प्रकाशित किया है।    

किताब में शर्मिला को ये कहते उद्धृत किया गया है- "शशि और मैं जयपुर में पाप और पुण्य की शूटिंग कर रहे थे। मेरा बेटा सैफ़ उस वक्त दो साल का था और मेरे साथ था। शशि कपूर की पत्नी और बच्चे भी शूटिंग में आए हुए थे। शशि कपूर और उनका पूरा परिवार सैफ़ के साथ खेलता था। वो उसे घुमाने ले जाते थे। ऐसे में सैफ़ 'शशि अंकल' से काफी घुल मिल गया था।" ज़ाहिर है कि सैफ़ को कैसे बर्दाश्त होता कि शशि अंकल पर कोई हमला कर दे।

शशि कपूर से जुड़े ऐसे कई किस्सों का किताब में ज़िक्र किया गया है।