जब सचिन के पास घर जाने के लिए टैक्सी तक के पैसे नहीं थे, पैदल ही चलना पड़ा था!

मुंबई (26 अप्रैल) :  सचिन तेंदुलकर दुनिया के बेशक सबसे अमीर क्रिकेटर होने के मकाम तक पहुंच गए लेकिन क्या आप यकीन कर सकते हैं कि बचपन में एक बार उनके पास इतने पैसे तक नहीं थे कि टैक्सी से घर पहुंच सकते। ऐसी हालत में उन्हें दो बैग लेकर दादर स्टेशन से शिवाजी पार्क तक पैदल जाना पड़ा था। ये वाकया सचिन ने खुद मंगलवार को सुनाया।  

सचिन ने बताया, "मैं सिर्फ 12 साल का था, जब मुंबई के लिए मेरा चयन हुआ था, वह मेरा पहला दौरा था। मैं काफी उत्सुक था और कुछ पैसे लेकर हम तीन मैच के लिए पुणे गए थे, लेकिन जैसे ही मैच शुरू हुआ बारिश होने लगी, हम उम्मीद कर रहे थे कि बारिश रुके तो हम थोड़ा क्रिकेट खेल पाएंगे। जब मेरा मौका आया तो मैं 4 रन पर रनआउट हो गया। मैं सिर्फ 12 साल का था, ठीक से विकेट के बीच दौड़ नहीं पाया, मैं निराश था लौटकर ड्रेसिंग रूम में ख़ूब रोया। इसके बाद मुझे दोबारा बल्लेबाजी का मौका नहीं मिला।'

सचिन ने कहा, "क्योंकि बरसात हो रही थी और पूरे दिन हमने कुछ नहीं किया और बिना यह जाने कि पैसे कैसे खत्म करने हैं फिल्म देखी, खाया पिया। मैंने सारे पैसे खत्म कर दिए थे और जब मैं मुंबई वापस लौटा तो मेरी जेब में एक भी पैसा नहीं था। मेरा पास दो बैग थे। हम दादर स्टेशन पर उतरे और वहां से मुझे शिवाजी पार्क तक पैदल जाना पड़ा क्योंकि मेरे पास पैसे नहीं थे।"

सचिन ने कहा कि उस वक्त आज की तरह टेक्नोलॉजी होती तो मैं फोन से एक एसएमएस घर पर करता और मेरे फोन पर पैसे ट्रांसफर हो जाते और मैं टैक्सी कर सकता।