नीता को देखते ही मुकेश अंबानी दे बैठे थे दिल, सिग्नल पर किया था PROPOSE

मुंबई (11 फरवरी): वैलेंटाइन की जब भी बात होती है तो कुछ गिने-चुने नाम ही सामने आते हैं जैसे लैला-मजनू, हीर-रांझा आदि। लेकिन हम बता रहे हैं देश के सबसे अमीर उद्योगपति की लव लाइफ के बारे में...

ऐसे शुरू हुई कहानी किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है मुकेश अंबानी और नीता अंबानी की प्रेम कहानी। एक कल्चरल प्रोग्राम के दौरान मुकेश के माता-पिता धीरूभाई अंबानी और कोकिलाबेन ने नीता को डांस करते देखा था। नीता को देखकर ही उन्होंने मुकेश के लिए उन्हें पसंद कर लिया था।

ऐसे हुई थी मुकेश-नीता की पहली मुलाकात नीता को अपनी बहू के रूप देखने का मन बनाने के बाद धीरूभाई अंबानी ने खुद नीता के घर फोन लगाकर उन्हें अपने ऑफिस बुलाया। वे अपने पापा के साथ धीरूभाई के ऑफिस पहुंची। इसी बीच धीरूभाई ने नीता से पूछा, 'क्या तुम मेरे बेटे मुकेश से मिलना चाहोगी?' नीता ने इसका जवाब हां में दिया। इसके बाद वो अपने पिता के साथ मुकेश से मिलने उनके घर गई। यहां मुकेश ने पहली बार नीता को देखा और देखते ही उन्हें दिल दे बैठे। इसके बाद दोनों के बीच बातचीत का सिलसिला चल पड़ा था। नीता के मुताबिक, मुकेश से 6-7 मुलाकात के बाद भी वो कम्फर्टेबल महसूस नहीं करती थीं।

मुकेश ने ऐसे किया नीता को प्रपोज एक बार नीता और मुकेश कार से मुंबई के पेडर रोड से निकले। ट्रैफिक ज्यादा थी। मुकेश की कार सिग्नल पर रुकी और तभी मुकेश ने फिल्मी अंदाज में नीता से पूछा, 'क्या तुम मुझसे शादी करोगी?' नीता ने शरमा के चेहरा नीचे कर लिया और मुकेश से गाड़ी चलाने को कहा। सिग्नल खुल चुका था और पीछे से कई गाड़ियां हॉर्न बजा रही थीं, लेकिन मुकेश ने कहा, 'जब तक तुम जवाब नहीं दोगी, तब तक मैं गाड़ी नहीं चलाऊंगा।' काफी सोच कर नीता ने जवाब दिया, 'यस.. आई विल।' 1984 में नीता की शादी मुकेश से हुई। दोनों के तीन बच्चे आकाश, ईशा और अनंत हैं।