खबरदार! सुरक्षित नहीं हैं व्हाट्स एप के मैसेज, ऐसे पढ़ी जा सकती है चैट...

नई दिल्ली (9 मार्च): व्हाट्सएप ने जब एंड टु एंड एनक्रिप्शन की शुरुआत की थी तो कहा था कि इसके जरिए भेजे जाने वाले चैट्स को कोई दूसरा पढ़ सकता न डीकोड कर सकता है। लेकिन विकिलीक्स के एक नए दस्तावेज के मुताबिक सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी व्हाट्सएप जैसे दूसरे इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप्स के जरिए किए चैट्स को डीकोड कर सकती है या पढ़ सकती है।

भ्रष्टाचार का खुलासा करने वाली संस्था विकिलीक्स ने हाल ही में लगभग 8 हजार फाइल्स जारी की है और जुलियन असांज ने दावा किया है कि इसमें सेंट्रल इंटेलिजेंस के हैकिंग क्षमता के बारे में जिक्र है।

विकिलीक्स ने दावा किया है कि सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी किसी स्मार्टफोन को दूर से रिमोटली हैक करने के लिए मैलवेयर और हैकिंग टूल का यूज करती है। इसके अलावा यह एजेंसी किसी भी टीवी को माइक्रोफोन में तब्दील करके स्पाई करती है।

इस दस्तावेज के मुताबिक सीआईए अपनी तकनीक के जरिए व्हॉट्सऐप, सिग्नल, टेलीग्राम और वीबो जैसे सोशल प्लैटफॉर्म की सिक्योरिटी को तोड़ सकती है। आपको बता दें कि सिग्नल और टेलीग्राम ऐसे मैसेजिंग प्लैटफॉर्म हैं जिन्हें दुनिया का सबसे सिक्योर ऐप माना जाता है। यहां तक की एडवर्ड स्नोडेन भी लोगों को सिग्नल और टेलीग्राम यूज करने की नसीहत देते हैं। विकिलीक्स की इस रीलीज में कहा गया है कि एंड टू एंड एन्क्रिप्शन के बावजूद सरकार के स्पाई ने यूजर्स के चैट को ऐक्सेस किया है।