जानिए, मथुरा हिंसा के 'मास्टरमाइंड' रामवृक्ष और RSS का कनेक्शन

अशोक तिवारी, नई दिल्ली (30 जून): मथुरा के जबाहरबाग कांड के मास्टरमाइंड रामवृक्ष यादव के सुरक्षा अधिकारी वीरेश यादव ने पुलिस पूछताछ में चौंकाने वाला खुलासा किया है। उसने दावा किया है कि जवाहरबाग में लाठी-डंडे चलाने की ट्रेनिंग देने के लिए RSS का एक शख्स आता था। वीरेश के मुताबिक, रामवृक्ष ने एक पागल सेना बनाई थी जो किसी की भी नहीं सुनती थी।

अपनी पागल सेना के दम पर ये 70 साल का दुबली-पतली कद काठी का रामवृक्ष यादव कभी जहर उगलता था। लेकिन, अब तक इस राज से परदा नहीं उठ पाया है कि रामवृक्ष को इतना ताकतवर किसने बनाया? 

मथुरा पुलिस की गिरफ्त में आए- इस शख्स का नाम है- वीरेश यादव। कभी ये रामवृक्ष का सुरक्षा अधिकारी हुआ करता था। जवाहरबाग के कई राज इसके अंदर दफ्न हैं। इसका दावा है कि जवाहर बाग में हथियारों की ट्रेनिंग देने के लिए RSS का एक आदमी आता था, जो रामवृक्ष की मौजूदगी में लाठी-डंडा चलाने की ट्रेनिंग देता था। 

वीरेश का दावा है कि जवाहरबाग में RSS से जुड़ा राजवीर आकर रामवृक्ष की सेना को ट्रेनिंग देता था। लाठी-डंडे चलाना सिखाता था। एक बार फिर से आपको सुनाते है कि आखिर रामवृक्ष के सुरक्षा अधिकारी ने क्या कहा? वीरेश रामवृक्ष की पालग सेना का कमांडर था, जिसके जिम्मे जवाहरबाग की सुरक्षा थी और रामवृक्ष की पागल सेना एक इशारे पर कुछ भी कर सकती थी। 

वीरेश पर सरकार ने 15 हजार का इनाम रखा था। पुलिस के रामवृक्ष के इस खास कमांडर की बहुत दिनों से तलाश थी। पुलिस रामवृक्ष से जुड़े बड़े राज वीरेश से उगलवाने की लगातार कोशिश कर रही है। वहीं, वीरेश की जुबान पर RSS का नाम आते ही लखनऊ में सियासी पारा एकाएक ऊपर चला गया है।

चुनावी मौसम में सभी राजनीतिक पार्टियां अपने-अपने हिसाब से आरोपों की बैटिंग और बॉलिंग कर रही है। लेकिन, मथुरा पुलिस को उस राजवीर की तलाश है, जिस पर रामवृक्ष की पागल सेना को ट्रेनिंग देने का आरोप है।